Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेघालय के राज्यपाल ने राजस्थान यात्रा में दिया अजीबोगरीब बयान, बोले- चुप रहने पर मुझे बना रहे थे उपराष्ट्रपति

उपराष्ट्रपति के गृह जिले राजस्थान के झुंझुनू में आकर मेघालय के राज्यपाल ने बोले विवादित बोल। कहा - चुप रहने पर मुझे उपराष्ट्रपति बनाने का इशारा था, लेकिन राहुल गांधी को अच्छा काम करते देख मैंने ही मना कर दिया।

jhunjhunu news Meghalaya governor satyapal malik pass controversial statement during rajasthan visit asc
Author
First Published Sep 10, 2022, 10:28 PM IST

झुंझुनू (राजस्थान). हमेशा अपने बयानों से विवादों में रहने वाले राज्यपाल सत्यपाल मलिक एक बार फिर विवादों में आ चुके हैं। उन्होंने हाल ही में निर्वाचित हुए उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के गृह जिले में आकर मीडिया को एक बयान दिया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि केंद्र सरकार की तरफ से मुझे भी चुप रहने पर उपराष्ट्रपति बनाने का इशारा था। लेकिन मैंने ही मना कर दिया।

मीडिया से कहीं ये बात
मीडिया से रूबरू होते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा कि मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हर बात में समर्थन करता हूं। किसी भी बात को लेकर जो भी कुछ महसूस करता हूं वह भी जगजाहिर कर देता हूं। लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि मैं मोदी सरकार के खिलाफत में हूं। मलिक ने कहा कि राहुल गांधी वर्तमान में भारत जोड़ो यात्रा के तहत बहुत अच्छा काम कर रहे हैं। उनके अलावा कोई भी ऐसा युवा नेता नहीं है जिसने कोई ऐसा कदम उठाया हो।

बोले- भाजपा के नेताओ पर भी हो कार्यवाही, तब बनेगी निष्पक्षता
मीडिया को संबोधित करते हुए राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा है कि वर्तमान में देश में कई नेताओं पर बीडीओ इनकम टैक्स के छापे पड़ रहे हैं। ऐसे में मेरा मानना है कि भाजपा में भी कई ऐसे नेता है जिन पर यह कार्रवाई होनी चाहिए। जिससे कि देश में निष्पक्षता का माहौल बना रहे। गौरतलब है कि इससे पहले किसान आंदोलन के समय भी सत्यपाल मलिक ने किसानों के समर्थन करते हुए देश के पूंजी पतियों के खिलाफ बयान दिए थे। जिसके बाद वह काफी चर्चा में आए हैं। आज भी मलिक ने कहा है कि मैं किसान का बेटा हूं ऐसे में मुझे उनका दर्द मालूम है। हमेशा किसानों के साथ ही रहूंगा। किसानों को एमएसपी दिलवाने के लिए हमेशा उनका समर्थन करूंगा।

मलिक बोले राजपथ का नाम बदलने की जरूरत नहीं थी
वही हाल ही में करीब 19 सौ करोड रुपए की लागत से रिनोवेट हुए कर्तव्य पथ पर बोलते हुए सत्यपाल मलिक ने कहा कि इंडिया गेट से राष्ट्रपति भवन तक का नाम जो पहले राजपथ था। उसे अब कर्तव्य पथ कर दिया गया है। यह नाम किसी मंत्र की तरह लगने लग गया है।

जानकारी हो कि मेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक रविवार तक राजस्थान की यात्रा पर है। वह यहां उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के गृह जिले झुंझुनू के बगड़ इलाके पहुंचे थे। वहां मीडिया से रूबरू होने के समय उन्होंने एक बार फिर बड़ा बयान दे दिया है। राज्यपाल को तीखे तेवर के लिए ही जाना जाता है।

यह भी पढ़े- श्राद्ध में परोसा गया 2 दिन पहले बना कांजी बड़ा, खाते ही 50 लोग पहुंच गए हॉस्पिटल,फूड विभाग ने लिए सेंपल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios