Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान सीएम के शहर में खुली भ्रष्टाचार की पोल: सड़क में 5 फीट गहरे गड्ढे में समा गया भोपाल, पढ़िए पूरा मामला

राजस्थान के विकास  के दावे करने वाले सीएम अशोक गहलोत में सड़क में भ्रष्टाचार का बड़ा मामला सामने आया है। जहां शनिवार के दिन बीच सड़क 5 फीट गहरा गढ्डा हो गया जिसमें एक बुजुर्ग स्कूटी सहित समा गया। उन्हें आसपास लोगों ने मदद करके बाहर निकाला।

Jodhpur news corruption in congress cm ashok gehlot city roads in bad condition asc
Author
First Published Sep 24, 2022, 6:14 PM IST

जोधपुर. राजस्थान में विकास के दावे करने वाली मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सरकार में भ्रष्टाचार का बड़ा मामला सामने आया है। यहां सीएम के गृह जिले जोधपुर में ही भ्रष्टाचार के साथ बनी सड़क अचानक दोपहर के समय धंस गई। सड़क पर अपनी स्कूटी लेकर जा रहे एक बुजुर्ग भी करीब 5 फीट गहराई में सड़क में समा गए। जिन्हे आसपास के लोगों ने बाहर निकाला।

भगत की कोठी के पास हुआ हादसा
दरअसल जोधपुर के झालामंड इलाके के रहने वाले भोपाल से अपनी स्कूटी लेकर भगत की कोठी से वीर दुर्गादास पुलिया की तरफ जा रहे थे। इसी दौरान जैसे ही वह भगत की कोठी रेलवे स्टेशन के पास पहुंचे। अचानक की सड़क धंस गई और बुजुर्ग भोपाल सिंह 5 फुट गहरे गड्ढे में अपनी स्कूटी के साथ दब गए। आसपास के लोगों ने उन्हें बाहर निकाला। इस हादसे में उनके हाथ पैर में चोट भी आई है। इलाज के लिए उन्हें नजदीकी हॉस्पिटल भिजवाया गया। 

घटना के बाद पुलिस ने ट्रॉफिक डायवर्ट बदलवाया
जैसे ही इस बात की सूचना प्रशासन और पुलिस को लगी तो तुरंत भगत की कोठी पुलिस और ट्रैफिक पुलिसकर्मियों की पलटन मौके पर पहुंची और रास्ते को डाइवर्ट करवा दिया गया। फिलहाल अभी मौके पर बीच पुलिस जाब्ता तैनात है। स्थानीय लोगों का कहना है कि हाल ही में कुछ महीनों पहले सड़क पर सीवरेज का काम हुआ था। जिसके बाद से अब तक कई बार सड़क पर धंस चुकी है। लोगों का कहना है कि सड़क पर की मरम्मत को लेकर हमेशा पीडब्ल्यूडी और नेशनल हाईवे अथॉरिटी के बीच भी विवाद बना रहता है। पीडब्ल्यूडी कहती है कि सड़क नेशनल हाईवे अथॉरिटी के अधिकार क्षेत्र में है जबकि नेशनल हाईवे अथॉरिटी कहती है कि सड़क का निर्माण पीडब्ल्यूडी विभाग का है।

गौरतलब है कि करीब डेढ़ महीने पहले जब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपने गृह जिले जोधपुर के दौरे पर आए थे। तबीयत टूटी सड़कों की हालत ना दिखे इसके लिए अधिकारियों ने सीएम को 10 किलोमीटर का सफर भी हेलीकॉप्टर से करवाया था। जब इस बात की खबर सीएम को लगी तो उन्होंने अधिकारियों को दो तो बात भी सुनाई कि सीएम के गृह जिले में ऐसा बिल्कुल भी नहीं चलेगा।

यह भी पढ़े- मंगेतर ने किया विश्वासघात, घूमाने ले गया और कर डाला यह कांड, फिर शादी से भी किया इंकार, पीड़िता पहुंची थाने

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios