Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव में प्रत्याशियों ने सारी सीमाएं लांघी, वोटर्स को लुभाने के लिए कर दी यह हरकत

राजस्थान में कोरोना के कारण दो साल बाद छात्रसंघ चुनाव हो रहे है। पर इस इलेक्शन में हर दिन कोई न कोई विवाद जुड़ रहे है। कभी प्रत्याशी का टिकट कट जाता है, कभी पुलिस के डंडें पर जाते है। अब वोटर को लुभाने के लिए डांसर बुला ली गई।

kota news student union election 2022 in rajasthan state candidate cross line to attract voter called girl dancer in hostel  asc
Author
Kota, First Published Aug 25, 2022, 8:51 PM IST

कोटा. राजस्थान में छात्रसंघ चुनाव के कुछ ही घंटे शेष है। ऐसे में प्रत्याशी अपने वोटरों को लुभाने के लिए नए-नए हथकंडे अपना रहे हैं। कोई वोटर्स को लुभाने के लिए महिला डांसर को बुला रहा है तो कोई प्रत्याशी को अपने वोटों का खुद से दूर चले जाने का इतना दम है कि उसने स्टूडेंट्स की ही बड़ा बंद करवा दी।

बांसवाड़ा में सरकारी हॉस्टल में मिली लड़किया
ऐसा ही एक मामला राजस्थान के बांसवाड़ा जिले से आया है। यहां एससी एसटी छात्र संघ और एनएसयूआई ने चुनाव जीतने के लिए 28 किलोमीटर दूर एक बड़े बंद केंद्र बनाया हुआ है। यहां बकायदा पुलिस को 7 छात्राएं मिली है। सबसे बड़ी ताजुब की बात है कि शहर से 28 किलोमीटर दूर जहां इन छात्राओं को बड़े बंदी में रखा गया है। वह जगह एक सरकारी हॉस्टल है। पुलिस ने जब शुरुआती में पूछताछ की तो यहां की वार्डन ने कहा कि लड़कियों के परिजन हैं उन्हें छोड़ कर गए हैं।

ABVP ने दर्ज कराई शिकायत
एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने पुलिस को शिकायत की थी कि बांसवाड़ा में राज्यमंत्री बामनिया और जल संसाधन मंत्री महेंद्रजीत सिंह मालवीय अपने अधिकारों का गलत उपयोग करें छात्र संघ चुनाव में अपने समर्थन के प्रत्याशियों का साथ दे रहे हैं। जिन्होंने शहर से 28 किलोमीटर दूर एक बाड़ाबंदी केंद्र भी बनाया है। इसके बाद पुलिस जब डूंगरपुर रोड पर बने कन्या छात्रावास में पहुंची तो यहां सरवन कॉलेज की 7 लड़कियां मिली। इनसे पूछताछ में आया कि उन्हें चुनाव वाले दिन यहां से ले जाया जाना था। उन्हें बकायदा यहां फोर व्हीलर गाड़ी छोड़ने के लिए आई थी। इसके साथ ही जिस हॉस्पिटल में वह रह रही थी उसके गेट पर भी ताला लगा हुआ था। ऐसे नहीं है साफ दर्शाता है कि राजस्थान में छात्र संघ प्रत्याशियों को राजनेताओं का भी समर्थन जमकर मिल रहा है। बिना इसके सरकारी संपत्तियों का उपयोग कोई भी छात्र संगठन नहीं कर पाता है। 

कोटा में चुनाव कार्यालय में नाचते दिखी लेडी डांसर
वही राजस्थान की एजुकेशन सिटी कही जाने वाली कोटा से भी एक वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में महिला डांसर एक चुनाव प्रत्याशी के कार्यालय में नाचते हुए दिखाई दे रही है। ऐसे में साफ माना जा सकता है कि राजस्थान में लिंगदोह कमेटी की जमकर धज्जियां उड़ रही है। अब देखना होगा कि इन दोनों मामलों में क्या कार्रवाई होती है।+

यह भी पढ़े- प्रेम प्रकाश को ईडी ने 6 दिनों के रिमांड पर लिया, मनी लांड्रिंग के मामले को लेकर करेगी पूछताछ

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios