Asianet News Hindi

सामूहिक विवाह कराएगी ये संस्था, कोविड-19 के प्रोटोकॉल का भी ऐसे करेगी पालन

कोविड-19 के दौरान नारायण सेवा संस्थान ने जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए राशन सामग्री का वितरण किया। साथ ही, पीपीई किट और कृत्रिम अंगों का वितरण भी किया और सीएम केयर फंड में भी धनराशि का योगदान किया।

Narayan Seva Sanstha will conduct mass marriage, will also follow the protocol of Kovid-19 asa
Author
Udaipur, First Published Dec 24, 2020, 3:10 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उदयपुर (Rajasthan) । कोरोना कॉल के प्रोटोकॉल का पालन सुनिश्चित कराते हुए नारायण सेवा संस्थान 35वां सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन 27 दिसंबर को उदयपुर में करेगी। इस दौरान दिव्यांग और वंचित वर्ग के लोगों को अपने जीवन साथी चुनने को मौका मिलेगा। हालांकि इस बार कोविड -19 से संबंधित प्रोटोकॉल के कारण समारोह में केवल रिश्तेदारों और जोड़ों के शुभचिंतकों को ही प्रवेश दिया जाएगा। 

कन्यदान में संस्था देगी उपहार
नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि हम पिछले 18 वर्षों से सामूहिक विवाह समारोहों का आयोजन कर रहे हैं। नवविवाहित जोड़ों को कन्यादान के रूप में घरेलू उपकरण उपहार स्वरूप भेंट करेंगे। उन्होंने सामूहिक विवाह समारोह में शामिल होने के लिए राजस्थान, महाराष्ट्र, बिहार, गुजरात और कई अन्य राज्यों के जोड़ों से अपेच्छा किया है।  

शादी के बाद भी मदद संस्था करती है मदद
प्रशांत अग्रवाल ने कहा कि नव विवाहित दंपती के लिए सामाजिक और आर्थिक पुनर्वास की पेशकश करते हुए हम सामूहिक विवाह समारोहों के साथ-साथ उनके लिए निःशुल्क सुधारात्मक सर्जरी, कौशल विकास की कक्षाएं, उनकी प्रतिभा को निखारने वाली गतिविधियों का भी आयोजन करते हैं।

कोरोना काल में जरूरतमंदों की संस्था ने की मदद
कोविड-19 के दौरान नारायण सेवा संस्थान ने जरूरतमंद लोगों की मदद करने के लिए राशन सामग्री का वितरण किया। साथ ही, पीपीई किट और कृत्रिम अंगों का वितरण भी किया और सीएम केयर फंड में भी धनराशि का योगदान किया।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios