Asianet News Hindi

पिता रोज कब्रिस्तान में करता था इंतजार, मौत के 23 दिन बाद कब्र से बाहर निकाला गया बेटे का शव

सीकर के मोहम्मद अल्ताफ नाम के युवक की  23 मौत हो गई थी। परिवार ने एक ठेकेदार मुंशी खां पर हत्या करने का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि अल्ताफ ठेकेदार के पास मजदूरी के पैसे मांगने गया था। जहां उसने बेटे के साथ मारपीट कर उसकी हत्या कर दी थी।

rajasthan dead body taken out from cemetery 23 days later for post mortem kpr
Author
Sikar, First Published Oct 16, 2020, 7:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

सीकर. राजस्थान में एक युवक की मौत के 23 बाद उसके शव को कब्र से बाहर निकाला गया। इसके बाद शव का  पोस्टमार्टम करके फिर से डेडबॉडी को दफना दिया गया। बता दें कि यह इसलिए किया गया कि मृतक के परिजन चाहते थे कि उनके बेटे की मौत की सही वजह पता चल सके।

इस वजह से मौत के 23 दिन बाद निकाला शव
दरअसल, सीकर के मोहम्मद अल्ताफ नाम के युवक की  23 मौत हो गई थी। परिवार ने एक ठेकेदार मुंशी खां पर हत्या करने का आरोप लगाया था। उनका कहना था कि अल्ताफ ठेकेदार के पास मजदूरी के पैसे मांगने गया था। जहां उसने बेटे के साथ मारपीट कर उसकी हत्या कर दी थी। इसके बाद अल्ताफ का बिना पोस्टमार्टम किए बगैर ही दफना दिया गया था।

23 दिन बेटे की कब्र के पास रोज बैठ रहे थे पिता
मृतक के पिता मोहम्मद सनाजुद्दीन आरोपियों को सजा दिलाना चाहते थे इसलिए वह पिछले 23 दिन से रोज कब्र के पास बैठकर शव का  पोस्टमार्टम  होने के लिए इंतजार करते थे। मामला मीडिया में आने के बाद एसडीएम ने कब्र से शव बाहर निकाल कर पोस्टमार्टम करने के आदेश दिए। जिसके बाद शुक्रवार को मौके पर पोस्टमार्टम मेडिकल टीम पहुंची और पीएम करवाया गया। इस पूरी घटना की वीडियोग्राफी भी करवाई गई।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios