Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान सियासी भूचाल के बाद चुनावी मोड पर CM गहलोत, अफसरों के साथ कर रहे मीटिंग, बोले एक मौका और दे दो

राजस्थान में थमें सियासी भूचाल के बाद अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आगामी विधानसभा के चुनावों की तैयारियों में जुट गए हं। उन्होंने राज्य के अफसरों को बजट की तैयारियों के लिए आदेश दे दिए हैं।पहली दफा हो रहा है जब दिवाली से पहले ही बजट को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है।
 

 Rajasthan Government Budget cm ashok gehlot announced next budget kpr
Author
First Published Oct 4, 2022, 6:30 PM IST

जयपुर. राजस्थान सरकार चुनाव भी मोड़ पर आ चुकी है । मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने इस बार पहली दफा दिवाली से पहले ही बजट को लेकर तैयारियां शुरू कर दी है। बजट को तैयार करने के लिए राजस्थान सरकार के 70 से ज्यादा अफसर इसके लिए आज से जुट गए हैं । आज सीएमओ में इसको लेकर पहली बैठक हुई । करीब 2 घंटे चली इस बैठक में बजट को लेकर अधिकारियों और मुख्यमंत्री के बीच चर्चा हुई । यह इस कार्यकाल का पहला बजट होगा जो काफी हद तक युवाओं पर केंद्रित रहेगा।  इसके अलावा महिलाएं एवं बुजुर्गों के लिए भी कई विशेष आकर्षण इस बजट में सरकार देने वाली है।  

पहली बार जनवरी में पेश होगा बजट
 बजट को तैयार करने की शुरुआत आज से कर ली गई है और अगले महीने की 15 तारीख तक इसे मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के पास भेजा जाना है । पहली बार ऐसा होगा कि बजट जनवरी में ही पेश कर दिया जाएगा।  बताया जा रहा है कि युवाओं के लिए अब तक की सबसे ज्यादा सरकारी नौकरियां यह बजट लेकर आएगा ।

 सीएम बोले- एक मौका और दे जनता हमें सुझाव दे सकती है 
 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आज मीडिया से संवाद के दौरान कहा कि हर बार हम बजट को लेकर पूर्व बजट बैठकें करते हैं । इस बार भी करेंगे।  लेकिन इस बार कोशिश यही है कि काफी सारी चीजें पहले ही तैयार की जा सके ,ताकि अगले साल होने वाले इलेक्शन से पहले सही समय पर बजट निकाल दिया जाए और उसके बाद इस बजट को लागू करने के लिए सभी अधिकारी जुट जाएं।

गहलोत बोले-हमने जनता से किए सारे वादे निभाए
 सीएम ने कहा- हमने पिछली बार के बजट में 80 फ़ीसदी से ज्यादा काम कर दिए हैं । 74 फ़ीसदी से ज्यादा योजनाएं लागू की जा चुकी है।  हमने पिछली सरकार का कोई भी काम या कोई भी बजट घोषणा नहीं रोकी है । उसे सिस्टम के अनुसार आगे बढ़ाया है । सीएम बोले कि राजस्थान में चल रही चिरंजी स्वास्थ्य योजना को प्रधानमंत्री भी बड़े स्तर पर लागू कर सकते हैं।  मुख्यमंत्री ने इशारा किया कि आने वाले बजट में चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना का दायरा और ज्यादा बढ़ाया जा सकता है । 

सरकार एक ही योजना में खर्च कर चुकी है 2700 करोड रुपए 
गौरतलब है कि सरकार पिछले 17 महीनों में ही चिरंजीवी स्वास्थ्य योजना में 2700 करोड रुपए से भी ज्यादा खर्च कर चुकी है।  स्वास्थ्य योजना से 20 लाख से ज्यादा लोगों ने फायदा उठाया है।  मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि अगर जनता उन्हें एक बार और मौका देती है तो वे सभी नए और पुराने काम पूरे कर देंगे।मौका नहीं भी मिलेगा तो भी कोई समस्या नहीं है वह अपनी घोषणाओं को पूरा करके ही जाएंगे। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios