Asianet News Hindi

गजब मामला: शुभ घड़ी देख ATM लूटने पहुंचा चोर, मुहूर्त निकला तो पकड़ा गया..खुद बताई पूरी कहानी

हैरानी की बात यह है कि चोर ने इस घटना को अंजाम देने के लिए पहले शुभ मुहूर्त तय किया, इसके बाद लूट के लिए अपने घर से निकले। लेकिन इसके बावजूद भी वह पकड़ा गया।

rajasthan news interesting story of bank atm loot thief shubh ghadi seen after arriving bank kpr
Author
Jaipur, First Published Dec 8, 2020, 4:31 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर (राजस्थान). अक्सर कहते लोग कोई शुभ काम करते हैं तो शभ मुहूर्त देखते हैं और उसके हिसाब से उसे करते हैं। लेकिन राजस्थान में एक अजब-गजब मामला सामने आया है। जिसे सुनकर आम आदमी से लेकर पुलिस तक हैरान है। यहां कुछ चोरों ने चोरी करने के लिए शुभ मुहूर्त देखा और सही घड़ी आने पर ही वारदात को अंजाम दिया।

काम नहीं आया ओरोपी का शुभ  मुहूर्त
दरअसल, हैरान कर देने वाला यही घटना मंडली कस्बे की एसबीआई बैंक में घटी। जहां चोरों ने 5 दिसंबर आधी रात को एसबीआई बैंक का एटीएम तोड़कर नकदी चुराने की कोशिश की। हैरानी की बात यह है कि चोर ने इस घटना को अंजाम देने के लिए पहले शुभ मुहूर्त तय किया, इसके बाद लूट के लिए अपने घर से निकले। लेकिन इसके बावजूद भी वह पकड़ा गए।

इस तरह चोर ने बैंक में लूट को दिया अंजाम
बता दें कि बैंककर्मी 4 दिसंबर शाम 7.45 को वह शाखा को बंद करके चले गए थे। अगले दिन 5 दिसंबर को  पंचायती चुनाव था, इसलिए ब्रांच बंद रखी थी। बसी इसी बात का फायाद उठाकर बदमाश एटीएम लूटने का प्लान बनाया। एटीएम मैनेजर का फोन आया, उसने बैंक मैनेजर को बताया कि बैंक का एटीएम बंद है, जब शाखा को खोलकर देखी तो पता चला कि किसी ने एटीएम तोड़ने का प्रयास किया था। इसके अलावा  सीसीटीवी का मॉनिटर उठा ले गया है। चोर ने बैंक का पीछे का दरवाजा तोड़कर इस घटना को अंजाम दिया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। 

ऐसे बदल गई युवक की नीयत
एसपी आनंद शर्मा, एएसपी नितेश आर्य ने स्पेशल टीम  गठित कर आरोपी को पकड़ने के लिए जगह जगह दबिश दी। आखिरकार वह पकड़ा गया। पूछताछ में उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया। बताया कि वह 4 दिसंबर को बैंक में पैसे जमा करने के लिए आया था। शाखा में भीड़ होने के कारण वो ईमित्र पर गया, लेकिन वहां नेट नहीं चलने के कारण वापस आया गया। इसी दौरान उसकी नजर पास में मौजूद एटीएम पर पड़ी जहां 500-500 रुपए के नोट उसमें डाले जा रहे थे। बस इन्हीं नोटो को देखकर उसका मन बदल गया और चोरी करने का प्लान बनाया।

शुभ मुहूर्त देख पहुंचा चोरी करने 
आरोपी ने पुलिस को बताया कि चोरी करने पहले शुभ मुहूर्त देखा था, तो शुभ घड़ी रात के 12 बजे थी। लेकिन वह तैयारी करने में उसे थोड़ा समय लग गया। जिसके चलते वह शुभ मुहूर्त पर वहां नहीं पहुंच कर 1 बजे वहां पहुंचा और पकड़ा गया। उसका कहना था कि अगर में तय समय पर पहुंच जाता तो कोई उसको नहीं पकड़ पाता। युवक ने कहा की वह चोरी करने के लिए घर से एक लोहो की रॉड लेकर गया था। पहले उसने सीसीटीवी तोड़े, इसके बाद एटीएम मशीन को उठाने की कोशिश की।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios