Asianet News HindiAsianet News Hindi

18 साल लड़के ने मरने के बाद बचाईं 3 लोगों की जिंदगी, लोग उसके शव को प्रणाम कर बोले- वो हमारा भगवान

राजस्थान में एक 18 साल के लड़के ने मरने के बाद भी तीन लोगों को नई जिंदगी दी है। लोग उसके शव को प्रणाम करके उसके घरवालों को इसके लिए धन्यवाद दे रहे हैं।

rajasthan news jaipur news heart transplant done in sms hospital kpr
Author
Jaipur, First Published Feb 12, 2020, 6:51 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर (राजस्थान). कहते हैं जो किसी की जिंदगी बचाता है, लोग उसको भगवान से कम नहीं मानते हैं। ऐसा ही मामला राजस्थान में सामने आया है। जहां एक 18 साल के लड़के ने मरने के बाद भी तीन लोगों को एक नई जिंदगी दे दी।

ऐसे बच गई तीन  लोगों की जिंदगी
दरअसल, यह मामला जयपुर में मंगलवार रात में देखने को मिली। जब श्रीगंगानगर के सार्दुलशहर 18 वर्षीय किशोर के ब्रेनडैड होने पर उसके परिजनों ने अंग डोनेट किए जाने पर सहमति जताई। इसके बाद डाक्टर्स ने करीब  11 घंटे चले सफल ऑपरेशन में युवक के ह्रदय को दूसरे मरीज के प्रत्यारोपण किया गया। जिसके वजह से युवकी जान बच गई। इसके बाद ब्रेन डैड युवक की दोनों किडनी का भी सवाई मानसिंह अस्पताल में ही पहले से भर्ती 2 मरीजों को प्रत्यारोपण किया गया।

लोग युवक के शव को प्रणाम कर दे रहे हैं धन्यवाद
जिन लोगों की इस ब्रेन डैड युवक की जान बची है उनके परिजन उसके शव को प्रणाम कर उसके घरवालों को धन्यवाद दे रहे हैं। वह कह रहे हैं आपका लड़का मरकर भी हमारे लोगों की जिंदगी बचा गया। वह हमारे लिए किसी भगवान से कम नहीं है। वहीं एसएमएस अस्पताल के अधीक्षक डॉ. डीएस मीना और एसएमएस मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ सुधीर भंडारी ने दानदाता युवक के परिजनों का आभार जताया हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios