Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में स्कूल, कॉलेज 30 मार्च तक बंद, CM ने कहा- शादियों में कम लोगों को बुलाएं

गहलोत ने कहा कि स्कूल और कॉलेजों में चल रही बोर्ड परीक्षाओं पर कोई रोक नहीं होगी। साथ ही, मेडिकल तथा नर्सिंग कॉलेज में कार्य संचालन सामान्य रूप से जारी रहेगा। 

Schools, colleges in Rajasthan closed till March 30, CM said- call limited people only at weddings kpm
Author
Jaipur, First Published Mar 14, 2020, 5:29 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


जयपुर. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए एहतियात के तौर पर प्रदेश में सभी स्कूल, कॉलेज, कोचिंग सेंटर, जिम, सिनेमाघर एवं रंगमंच आदि को 30 मार्च तक बंद रखने के निर्देश दिए हैं।

वायरस से भयभीत ना हो- गहलोत

इस अवधि में आयोजित होने वाले म्यूजिक इन द पार्क तथा नाटक मंचन जैसे कार्यक्रम भी स्थगित रहेंगे। गहलोत ने शुक्रवार की देर रात एक उच्चस्तरीय बैठक में कोरोना वायरस की स्थिति की समीक्षा बैठक के दौरान यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन तथा संयुक्त राष्ट्र द्वारा कोरोना वायरस को महामारी घोषित करने तथा केन्द्र सरकार की ओर से जारी किये गये परामर्श के तहत एहतियात के तौर पर संक्रमण से बचाव के लिए यह निर्णय लिया गया है।

मुख्यमंत्री ने आम लोगों को कोरोना वायरस के विषय में भयभीत नहीं होने की सलाह दी। उन्होंने लोगों से अपील की है कि वे भीड़भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें तथा आवश्यकता होने पर ही सार्वजनिक परिवहन का प्रयोग करें।

बोर्ड परीक्षाओं पर नहीं  है कोई रोक

गहलोत ने कहा कि स्कूल और कॉलेजों में चल रही बोर्ड परीक्षाओं पर कोई रोक नहीं होगी। साथ ही, मेडिकल तथा नर्सिंग कॉलेज में कार्य संचालन सामान्य रूप से जारी रहेगा। उन्होंने प्रदेशवासियों से शादी समारोहों को छोटा रखने तथा सीमित संख्या में मेहमानों को बुलाने की अपील की है। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे नियमित रूप से परामर्श आदि जारी कर आम लोगों को जागरूक करें।

राज्य में तीन मामलों की हुई है पुष्टी

एक सरकारी बयान के अनुसार राज्य में कोरोना वायरस के संक्रमण के लिए 370 लोगों की जांच की गई है, जिसमें से केवल तीन मामले ही पॉजिटिव पाए गए हैं। बैठक में यह भी बताया गया कि राज्य में कुल तीन लाख लोगों की कोरोना वायरस के संक्रमण की जांच की गई है।

(ये खबर पीटीआई/भाषा की है। हिन्दी एशियानेट न्यूज ने सिर्फ हेडिंग में बदलाव किया है।) 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios