Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान के सांसद के खिलाफ दर्ज हुआ धोखाधड़ी का मुकदमा: राजनीतिक पावर के गलत इस्तेमाल का लगा आरोप

राजस्थान के लोकसभा सांसद सुमेधानंद सरस्वती  के ऊपर धोखाधड़ी का केस दर्ज करवाया गया है। वे जिस पंथ से जुड़े वहीं के कुछ पदाधिकारियों ने सांसद के ऊपर पॉलीटिकल पावर से आर्य समाज के बैंक अकाउंट को बंद करवाने की कोशिश करवाने का आरोप लगाया है।

sikar news arya samaj organization officer filed Fraud case against BJP MP sumedhanand saraswati asc
Author
First Published Sep 16, 2022, 2:56 PM IST

सीकर. राजस्थान में हमेशा अपनी ओजस्वी वाणी के लिए जाने जाने वाले सीकर लोकसभा क्षेत्र सांसद सुमेधानंद सरस्वती एक बार फिर चर्चा में है। इस बार उनकी चर्चा का कारण उनकी ओजस्वीवाणी नहीं बल्कि जयपुर के आदर्श नगर थाने में उन पर दर्ज हुआ धोखाधड़ी का एक मामला है। सांसद जिस पंथ से जुड़े हुए थे उसी के कुछ पदाधिकारियों ने सांसद और उनके कुछ अन्य साथियों पर यह मुकदमा दर्ज करवाया है। जिसके आधार पर आदर्श नगर पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है।

क्या है मामला
पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक आर्य प्रतिनिधि सेवा राजस्थान के मंत्री जीववर्धन शास्त्री ने जयपुर के आदर्श नगर थाने में कोर्ट इस्तगासा से मामला दर्ज करवाया है कि सीकर लोकसभा क्षेत्र सांसद सुमेधानंद सरस्वती, देवेंद्र कुमार और भरतपुर निवासी रवि शंकर गुप्ता, अंकित जैन और दीपक शास्त्री ने 2021 में मिलकर यह अपराध करने की कोशिश की है। 2021 में सांसद सुमेधानंद सरस्वती सभा के प्रधान चुने गए थे। लेकिन कुछ दिनों बाद ही उन्होंने व्यक्तिगत कारणों से इस्तीफा दे दिया। कुछ दिनों बाद जब सांसद की जगह किशन लाल गहलोत को सभा का प्रधान नियुक्त किया गया तो सांसद ने अन्य नामजद आरोपियों के साथ फर्जी लेटर पैड छपवा लिए और अपने जयपुर और सीकर आवास पर अवैध बैठक बुलाने लगे। सांसद पर आरोप है कि उन्होंने सभा की गतिविधियों को बंद करने के लिए अपने पॉलीटिकल पावर सभा के बैंक खातों को बंद कराने की भी कोशिश की। साथ ही अपने साथियों के साथ मिलकर रजिस्टार सोसायटी के लोगों को भ्रमित किया है। जिनका इरादा सभा की संपत्तियों पर अवैध कब्जा करना है।

गौरतलब है कि सीकर लोकसभा क्षेत्र सांसद सुमेधानंद सरस्वती छोटी सी उम्र में ही वैराग्य जीवन धारण कर चुके थे। इसके बाद वह आर्य समाज से जुड़ चुके थे। पिछले करीब 40 सालों से सांसद सुमेधानंद सरस्वती आर्य समाज के सदस्य हैं। जो अपने सीकर के पिपराली वैदिक आश्रम पर भी हर वर्ष कई आयोजन करते हैं। इसमें आर्य समाज के देशभर से कई लोग भी शामिल होते हैं। ऐसे में अब देखना होगा कि सांसद पर हुए इस मुकदमे में पुलिस क्या कार्रवाई करती है।

यह भी पढ़े- नामीबिया से चीतों को ला रहे स्पेशल विमान का बदला रूट, जयपुर के बजाए इस जिले में होगी लैंडिंग

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios