Asianet News HindiAsianet News Hindi

पार्टी के लिए होस्टल संचालक मांग रहा था रुपए, नहीं देने पर दी खौफनाक सजा, टूटी नाक, हाथ के साथ पहुंचा हॉस्पिटल

राजस्थान के सीकर जिलें में एक छात्र के साथ होस्टल संचालक व कुछ अन्य लड़को द्वारा मारपीट करने का मामला सामने आया है। जहां गुरुवार की शाम उन्होंने पीड़ित को कमरे में बंद कर छड़ व लाठियों से हमला कर जख्मी कर दिया। घटना की पिता ने शुक्रवार के दिन पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है।

sikar news boy beaten by hostel operator and fellow students for not giving money for party asc
Author
First Published Sep 9, 2022, 5:01 PM IST

सीकर. सीकर शहर में पिपराली रोड स्थित हॉस्टल में 11वीं कक्षा के छात्र को कमरे में बंद कर उस पर जानलेवा हमला करने का  मामला सामने आया है। आरोप है कि छात्र के साथी व हॉस्टल संचालक पार्टी के लिए रुपए की मांग की थी। जो देने से मना करने पर उन्होंने 6-7 अन्य युवकों के साथ मिलकर उसे हॉस्टल के कमरे में बंद कर दिया और लाठी- डंडों व रॉड से उसकी पिटाई कर दी। जिससे उसके नाक, हाथ व कंधों में फे्रक्चर के साथ शरीर में कई जगह गंभीर चोट आई है। छात्र के पिता नीमकाथाना के नृसिंहपुरी निवासी बजरंग लाल पुत्र प्रहलाद राय की रिपोर्ट पर उद्योग नगर पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

स्कूल से बाहर निकलते ही अपहरण
पिता बजरंग लाल ने रिपोर्ट देते हुए बताया है कि उसका  15 वर्षीय बेटा यश 11वीं कक्षा में कृष्णा विद्या मंदिर में पढ़ता है। कुछ दिन पहले उसने शिकायत की थी कि उसके साथ पढऩे वाला विद्यार्थी स्कूल के बाहरी लड़कों के साथ उससे पार्टी करने के लिए रुपयों की मांग करता है। गुरुवार शाम 6.30 बजे जब वह स्कूल से बाहर निकला तो उस विद्यार्थी और आशीर्वाद हॉस्टल के संचालक गोविंद शर्मा सहित  6-7 अन्य युवकों ने उसे रास्ते में रोक लिया। जहां धमकाते हुए उन्होंने फिर उससे रुपयों की मांग की। जब यश ने मना किया तो वह उसे पकड़कर आशीर्वाद हॉस्टल के अंदर ले गए। जहंा जान से मारने के इरादे से उस पर रॉड से हमला कर दिया। जिससे उसके नाक पर गंभीर चोट लगने से खून बहने लगा। फिर आरोपियों ने उसे डंडों व पाइपों से मारा।  चिल्लाया तो आरोपियों ने उसे एक कमरे में बंदकर पीटना शुरू कर दिया। छोडऩे के लिए गिड़गिड़ाने पर भी उन्होंने उसे नहीं बख्शा। बड़ी मुश्किल से वह उनके चंगुल से बाहर निकला। जिसे बाद में नजदीकी लोगों की मदद से एसके अस्पताल पहुंचाया गया।

नाक, हाथ व कंधे में फ्रेक्चर 
पिता ने रिपोर्ट में बताया कि एसके अस्पताल में चिकित्सकों की जांच के दौरान उसके शरीर में कई जगह फ्रेक्चर मिला। जिसके चलते उसे अस्पताल में भर्ती करना पड़ा। चिकित्सकों ने यश के नाक में मल्टीपल फ्रेक्चर के अलावा हाथ व कंधे में फ्रेक्चर के अलावा शरीर में कई जगह अंधरूनी चोट बताई है। रिपोर्ट में बताया कि पूरी घटना खुद बेटे यश ने उसे बताई है। ऐसे में दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़े- जेल से बाहर निकलने वाले थे पूर्व मंत्री योगेंद्र साव, पर ऐसा क्या हुआ कि तैयारी धरी की धरी रह गई, जानिए मामला

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios