Asianet News HindiAsianet News Hindi

बेटी के आंखों के सामने पैरों तले कुचली जा रही थी बुजुर्ग मां, सीकर के खाटूश्याम मंदिर में दर्दनाक हादसा

मृतकों के परिजनों का कहना था कि हम लोगों के हाथ जोड़ते जा रहे थे कि वे रुक जाएं, पैरों तले किसी को नहीं रौंदे। हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई है। पहले दर्शन करने की होड़ में मंदिर में भगदड़ मची थी। 

Sikar news Eyewitness Story of stampede in Khatu Shyam temple pwt
Author
Sikar, First Published Aug 8, 2022, 10:18 AM IST

सीकर. जिले के प्रसिद्ध खाटू श्याम मंदिर में सोमवार सुबह मची भगदड़ में हरियाणा के हिंसार में रहने वाली 63 साल की शांति देवी की भी जान चली गई। शांति देवी को बचाने के लिए उनकी बेटी भी वहीं थी। बेटी ने जब आंखों देखा हाल बताया तो हर कोई सदमे में चला गया। बेटी बोली मेरी मां पैरों तले कुचली जा रही थी, दस साल की बेटी लापता हो गई थी और बच्चे भी नीचे गिर रहे थे। जब तक ये सब शांत हुआ, तब तक मां की जान जा चुकी थी।

दर्शन करने के लिए रात में पहुंचे थे सीकर
हिसार में रहने वाली शांति देवी की फिलहाल पहचान हो सकी है। अन्य लोगों के बारे में जांच पड़ताल की जा रही है। हादसे में तीन महिलाओं की जान गई है और चार अन्य घायल हैं। दरअसल हरियाणा के हिसार में रहने वाली 63 साल की शांति देवी अपनी बेटी और नातिन-नातिनों के साथ दर्शन करने के लिए आई थी। बेटी बोली हम देर रात सीकर आ गए थे और फिर खाटू बाबा के पास आए थे।

पहली बार पहुंचे थे दर्शन करने
पहली बार ही यहां दर्शन करने आए थे, क्या पता था कि खाटू बाबा दर्शन ही नहीं देंगे। बेटी रोती हुए बोली माां कुछ आगे ही लाइन में लग रही थी। इस दौरान मंदिर के गेट खुलने की आवाज किसी ने लगा दी। जिसके बाद भगदड़ मच गई। मेरी आंखाों के सामने ही लोग एक दूसरे पर गिरते गए। मां बचाओ बचाओ चिल्लाती रही, लेकिन उनके उपर औरतें गिरती जा रही थी। अचानक बड़ी बेटी चिल्लाई, मां छोटी बहन कहा गईं। मैं रोती रही, बचाने के लिए भीख मांगती रही, लेकिन जब तक सब थमा मां जा चुकी थी। बुजुर्ग मां की इतनी दर्दनाक मौत हुई कि कोई सपने में भी नहीं सोच सकता। मां के बाद बेटी को तलाश किया, लेकिन काफी देर तक नहीं मिली। बाद में एक कोने में रोते हुए बेटी मिली। अब मां के पोस्टमार्टम का इंतजार कर रहे हैं।

तीन महिलाओं की मौत, अब तक चार घायल
गौरतलब है कि खाटूश्यामजी के मंदिर में एकादशी पर बाब श्याम  के दर्शनों के लिए जमा हुई भीड़ में  सुबह अचानक भगदड़ मच गई। जिसमें दबने से तीन महिलाओं की मौत हो गई। जबकि चार अन्य घायल हो गए थे। मृतकों में एक महिला की शिनाख्त हरियाणा की हिसार निवासी 63 वर्षीय शांति पत्नी प्रीतम के रूप में हुई है। जबकि दो महिलाओं की पहचान अब तक नहीं हो पाई है।

इसे भी पढ़ें- खाटू श्याम मंदिर में भगदड़: परिजन मदद के लिए चिल्लाते रहे भीड़ ने 3 महिलाओं को कुचल डाला, मौके पर मौत
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios