सीकर गैंगवार में मारे गए ठेहट के बारे में बड़ा खुलासाः केवल गैंगस्टर ही नही, अरबों रुपए का मालिक है था राजू

| Dec 09 2022, 01:40 PM IST

सीकर गैंगवार में मारे गए ठेहट के बारे में बड़ा खुलासाः केवल गैंगस्टर ही नही, अरबों रुपए का मालिक है था राजू

सार

राजस्थान के सीकर जिले में पिछले वीक हुए गैंगवार में मारे गए गैंगस्टर के बारे में बड़ी जानकारी सामने आई है। राजू ठेठ गैंगस्टर होने के साथ अरबों का मालिक भी था। प्रदेश के 2 शहरों में करोड़ों के मकान, कई राज्यों में फैला हुआ था बिजनेस।

सीकर (sikar). गैंगस्टर राजू ठेहट की मौत को आज करीब 1 सप्ताह का समय पूरा हो चुका है। मामले में पुलिस ने अब तक पांच मुख्य आरोपियों के अलावा अन्य सहयोगी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इन सभी से पुलिस का खाता पूछताछ कर रही है। इधर राजू ठेहट का परिवार उसकी अस्थियों की विसर्जन के लिए हरिद्वार गया हुआ है। इसी बीच अब गैंगस्टर राजू ठेठ के बारे में एक बड़ा खुलासा सामने आया है।

गैंगस्टर के साथ-साथ करोड़ो की संपत्ति का था मालिक
दुनिया की नजरों में गैंगस्टर के नाम से अपनी पहचान रखने वाला राजू ठेहट केवल एक गैंगस्टर ही नहीं बल्कि करोड़ों रुपए की संपत्ति का मालिक है। मौत के बाद इस बारे में पुलिस पता लगाने में लगी हुई है। दरअसल सीकर जिले में राजू ठेहट के पास लगभग 15 से 17 करोड़ के तीन मकान, करीब 50 से 70 करोड़ रुपए की जमीन है। इसके अलावा राजधानी जयपुर में भी लगभग 10 करोड़ के आसपास के मकान और संपत्ति है। भले ही राजू ठेहट ने यह संपत्तिया अपने परिवार के लोगों या फिर अन्य किसी के नाम पर की हुई हो। लेकिन अक्सर राजू ठेहट को इन प्रॉपर्टी ऊपर देखा जा चुका है। सबसे लेटेस्ट प्रॉपर्टी राजू ठेहट ने जयपुर के महेश नगर में खरीदी थी। यहां ठेहट ने 3 से 4 करोड़ रुपए का एक मकान भाजपा के नेता प्रेम सिंह बाजोर से खरीदा था।

Subscribe to get breaking news alerts

अपराध छोड़ बिजनेसमैन और नेता बन चुका था
वही राजू ठेहट पिछले करीब डेढ़ साल से अपराध की दुनिया छोड़कर एक बिजनेसमैन और नेता बन चुका था। डेढ़ सालों में ही गैंगस्टर राजू ठेहट ने अपना व्यापार हरियाणा महाराष्ट्र गुजरात समेत कई राज्यों में कर लिया। इसमें इंपोर्ट एक्सपोर्ट और कंस्ट्रक्शन समेत कई धंधे शामिल है। इसके अलावा राजू ठेहट सीकर और हरियाणा में माइंस के व्यापार में भी जुड़ा था। इनमें कुछ काम राजू ठेहट तो कुछ काम राजू का बड़ा भाई हरलाल देखा करता है।

इस पूरे मामले का खुलासा तब हुआ जब राजू ठेहट के अंतिम संस्कार में हरियाणा और गुजरात के कई व्यापारी भी शामिल होने के लिए आए थे। बरहाल इस पूरी संपत्ति की जानकारी राजू ठेहट के परिवार को भी है। जानकारों की मानें तो अब राजू ठेहट का परिवार इन संपत्तियों को कानूनी तौर पर अपने नाम करवाएगा।

यह भी पढ़े- कौन था राजू ठेहटः दूध बेचने वाला कैसे बना राजस्थान का सबसे बड़ा गैंगस्टर, दोस्त से दुश्मन तक-सब फिल्म जैसा