राजस्थान बॉर्डर से घुसे पाकिस्तानी: किसानों ने रोका तो की फायरिंग, फिर BSF जवानों ने दिया मुंहतोड़ जवाब

| Dec 10 2022, 10:59 AM IST

राजस्थान बॉर्डर से घुसे पाकिस्तानी: किसानों ने रोका तो की फायरिंग, फिर BSF जवानों ने दिया मुंहतोड़ जवाब

सार

राजस्थान में श्रीगंगानगर के पास भारत-पाकिस्तान  इंटरनेशनल बॉर्डर पर दो युवकों को घुसपैठ करते हुए देखा गया। जब किसानों ने उनको देखा तो पाक रेंजर्स ने फायरिंग की। पाक की इस नापाक हरकत का मुहं तोड़ जबाव देते हुए भारत की ओर से कुल 18 राउंड फायर किए गए। इसी बीच दोनों युवक भाग निकले।


श्रीगंगानगर. राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में अनूपगढ़ के पास भारत-पाक इंटरनेशनल बॉर्डर पर बीती शाम भारत और पाकिस्तान के बीच फायरिंग का मामला सामने आया है। दरअसल देर शाम बॉर्डर के समीप बिजनौर पोस्ट के पास एक खेत में कुछ किसान काम कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने तारबंदी के पास से दो युवकों को घुसपैठ करते हुए देख लिया। जब उन्होंने इन दोनों युवकों को रोका तो उधर से पाकिस्तान ने किसानों पर फायरिंग करना शुरू की। जैसे तैसे किसानों ने खुद को बचाया। 

भारत-पाक बॉर्डर पर दोनों तरफ से हुई जमकर गोलीबारी
जैसे ही भारत की बीएसएफ जवानों को इस बात का पता लगा उन्होंने भी जवाबी फायरिंग शुरू कर दी। भारत की ओर से कुल 18 राउंड फायर किए गए। इसी बीच दोनों युवक भाग निकले। यह मामला करीब 1 से डेढ़ घंटे तक चला। इसके बाद शांति हुई। बीएसएफ के जवानों ने इसकी सूचना तुरंत अपने उच्च अधिकारियों को दी। देर रात तक इलाके में सर्च ऑपरेशन भी चलता रहा। लेकिन सेना को कुछ हाथ नहीं लग पाया।

Subscribe to get breaking news alerts

भारत की खुफिया एजेंसी अलर्ट
वही अब इस फायरिंग की सूचना मिलने के बाद भारत की खुफिया एजेंसी भी सक्रिय हो गई है। सेना ने जहां रात को अपना सर्च ऑपरेशन बंद कर दिया वहीं अब खुफिया एजेंसियों के अधिकारी साक्ष्य जुटाने में लगे हुए हैं।

आए दिन सामने आती है पाकिस्तानी घुसपैठियों ने नापाक हरकत
यह पहला मामला नहीं है जब राजस्थान के रास्ते पाकिस्तानी घुसपैठियों ने नापाक हरकत करने की कोशिश की हो। इसके पिछले संडे ही इसी तरह की कोई हरकत भारत के जवानों को नजर आई थी। ऐसे में उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। इससे घुसपैठ कर रहे पाकिस्तान के एक युवक को गोली लग गई जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। बीते 4 महीने में 4 बार राजस्थान में घुसपैठ की कोशिश हो चुकी है। हालांकि इसमें तीन बार बीएसएफ ने घुसपैठियों को पकड़ भी लिया है।