Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना : भीलवाड़ा में 30 लाख लोगों का किया गया सर्वे, 17 हजार से अधिक लोगों में सर्दी जुकाम के लक्षण

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि लगभग 4 लाख शहरी आबादी वाले इलाकों में दो चरणों 18 मार्च से 23 मार्च तक और फिर 24 मार्च से 28 मार्च तक सर्वे किया गया।

Survey conducted among 30 lakh people in Bhilwara,Symptoms of colds in more than 17 thousand people kpm
Author
Bhilwara, First Published Mar 30, 2020, 6:55 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर. राजस्थान के भीलवाड़ा में 19 मार्च को एक साथ छह लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित पाये जाने पर, इसके प्रसार को रोकने की बड़ी चुनौती स्वीकार करते हुए जिला प्रशासन ने सोमवार तक पिछले 10 दिनों में 30 लाख से अधिक लोगो का सर्वे किया।

भीलवाड़ा की सीमाओं को 20 मार्च को किया गया था सील

जिला प्रशासन के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि लगभग 4 लाख शहरी आबादी वाले इलाकों में दो चरणों 18 मार्च से 23 मार्च तक और फिर 24 मार्च से 28 मार्च तक सर्वे किया गया। वहीं ग्रामीण इलाकों 22 मार्च से 28 मार्च तक 1948 दलों ने करीब 26 लाख लोगों का सर्वे किया। उन्होंने बताया कि भीलवाडा के एक निजी अस्पताल में कोरोना संक्रमित चिकित्सकों और नर्सों की जानकारी मिलने के पश्चात जिला कलेक्टर ने 20 मार्च को शहरी सीमा पर कर्फ्यू लागू करने का निर्णय लिया और जिले की सीमाओं को सील कर दिया गया।

24 में से 8 मरीज हुए ठीक

अधिकारी ने बताया कि अस्पताल में 22 फरवरी से 18 मार्च तक ओपीडी में आये 5580 मरीजों की जांच की गई। उन्होंने बताया कि अभी तक कुल 26 लोग संक्रमित पाए गए जिनमें दो की मृत्यु हो गई। दोनों मृतक बुजुर्ग थे जिन्हें दिल और गुर्दे सहित अन्य बीमारियां थीं। फिलहाल 24 मरीजों में से 8 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है जिससे यह संकेत मिलता है कि भीलवाड़ा में कोरोना वायरस पर नियंत्रण की दिशा में सफलता मिल रही है अधिकारी ने बताया कि जिले में कुल 24 जांच चौकियां बनाकर पड़ोसी जिलों से आवागमन रोक दिया गया । उसके बाद कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिये घर-घर जाकर सर्वे शुरू किया गया।

उन्होंने बताया कि 22 मार्च से 28 मार्च तक जिले के ग्रामीण क्षेत्र में निवासरत लोगों का सर्वे किया गया। 1948 टीमों ने कुल 5 लाख 48 हजार 293 घरों को चिन्हित कर उनमें रहने वाले 26 लाख 83 हजार लोगों का सर्वे किया ।

सर्वे में 17 हजार से अधिक लोगों को सर्दी और जुकाम था

अधिकारी ने बताया कि शहरी और ग्रामीण इलाकों में लोगों के प्रथम चरण के सर्वे में 17,545 लोग सामान्य सर्दी जुकाम से पीड़ित थे। इन लोगों को घर में ही रहने की हिदायत दी गई। वहीं शहरी सीमा में करीब 80,000 मकानों का सर्वे कर चार लाख से अधिक शहरवासियों का सर्वे किया गया। इनमें 2,572 सामान्य सर्दी-जुकाम के पीड़ित लोग थे।

उन्होंने बताया कि शहर में तुरंत दूसरे चरण का सर्वे कर इन लोगों के बारे में जानकारी लेने पर पता चला कि 1274 लोगों ने दूसरे चरण में स्वास्थ्य लाभ लिया।

(यह खबर समाचार एजेंसी भाषा की है, एशियानेट हिंदी टीम ने सिर्फ हेडलाइन में बदलाव किया है।)

(प्रतीकात्मक फोटो)

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios