Asianet News HindiAsianet News Hindi

कन्हैयालाल के हत्यारों ने 2014 में करांची से ली थी ट्रेनिंग, सामने आया पाकिस्तानी कनेक्शन

 राजस्थान के उदयपुर में दर्जी कन्हैयालाल की बर्बरता से हत्या कर दी गई। इस घटना ने पूर देश को हिलाकर रख दिया है। इस मामले में हर घंटे नए-नए खुलासे हो रहे हैं। अब आरोपियों का पाकिस्तानी कनेक्शन भी सामने आया है।

udaipur kanhaiya lal murder case pakistan links riyaz and gaus went to karachi from training kpr
Author
Udaipur, First Published Jun 29, 2022, 5:47 PM IST

उदयपुर. राजस्थान के उदयपुर में मंगलवार दोपहर रियाज मोहम्मद और गोस मोहम्मद नाम के दो आरोपियों ने टेलरिंग का काम करने वाले कन्हैया लाल की बेरहमी से हत्या कर दी। इस घटना के बाद से पूरे प्रदेश में तनाव का माहौल पैदा हो गया। राजस्थान पुलिस के साथ-साथ खुफिया एजेंसियों में खलबली मच गई है। इस तालिबानी मर्डर के तार पाकिस्तान से जुड़ रहे हैं। जांच एजेंसी NIA मौके पर पहुंच कर इसकी जांच में जुट गई हैं। वहीं प्रदेश के गृह राज्यमंत्री राजेंद्र सिंह यादव ने आरोपियों के बारे में बड़ा खुलसा किया है। उन्होंने कहा-रियाज और गोस पाकिस्तान और अरब देशों के लोगों के संपर्क में थे। 

ऐसे सामने आया तालिबानी मर्डर का पाकिस्तान कनेक्शन
राजस्थान के गृहमंत्री यादव ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि दोनों आरोपियों के मोबाइल में  पाकिस्तान और अरब देशों में रहने वाले लोगों के नंबर मिले हैं। जिसमें 8 से 10 मोबाइल नंबर ट्रेस किए गए हैं। लगातार जिनके टच में यह दोनों थे। आए दिन इनसे इनकी बातचीत होती थी। नेशनल इन्वेस्टिगेशन एजेंसी अब उन लोगों का पता लगाने में जुट गई हैं, जिनसे रियाज जब्बार और गोस मोहम्मद लगातार बातचीत कर रहे थे। 

दोनों ने करांची में करीब 15 दिन की ट्रेनिंग भी ली थी
वहीं गृह राज्यमंत्री राजेंद्र सिंह यादव ने रियाज जब्बार और गोस का कराची में ट्रेनिंग लेने का भी दावा किया है। उन्होंने कहा कि दोनों 2014-15 में पाकिस्तान भी गए हुए थे, दोनों नेपाल के रास्ते हुए पाक पहंचे थे। जहां इन्होंने करांची में करीब 15 दिन की ट्रेनिंग भी ली थी। अब यह कनेक्शन सामने आते ही केंद्रीय एजेंसियां तक अलर्ट हो गईं हैं।

जानिए क्या है पूरा मामला...क्यों और कैसे किया मर्डर
बत दें कि कल मंगलवार दोपहर दो बजे के करीब रियाज जब्बार और गोस मोहम्मद टेलर कन्हैयालाल की दुकान में पहुंचे थे। जाते ही उन्होंने  कहा कि हमें कपड़े सिलवाने है। तो कन्हैया ने दोनों का नाप लेना शुरू कर दिया। कुछ देर बाद एक ने तलवार से दनादन कन्हैया पर वार करना शुरू कर दिया। जबकि दूसरा इस घटना का वीडियो बनाता रहा। वह चीखता-चिल्लाता रहा और दरिंदे हमला करते रहे। तालिबानी तरीके से मर्डर कर दिया गया। इतने बेरहमी से वार किया की गला काट दिया। बता दें कि पूरा मामला 10 दिन पहले नूपुर शर्मा के समर्थन में सोशल मीडिया पर पोस्ट डालने को लेकर था। यह पोस्ट कन्हैयालाल के बेटे ने पोस्ट किया था। इसी बात से गुस्से में आकर घटना को अंजाम दिया गया।
 

इसे भी पढ़ें- Udaipur Talibani murder case: 2022 में गहलोत सरकार ने 3 बार लगाया कर्फ्यू, 6 महीने में 4 जिलों में तनाव 

इसे भी पढ़ें- उदयपुर हत्याकांड में अब तक का 15 बिग अपडेटः हत्यारों की गिरफ्तारी से लेकर NIA की एंट्री तक...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios