Asianet News HindiAsianet News Hindi

कन्हैयालाल के हत्यारे रियाज की क्राइम कुंडलीः भाई की मौत पर नहीं गया था घर, परिवार बोला-सिर शर्म से झुका दिया

उदयपुर में 28 जून को दोपहर में रियाज और गोस मोहम्मद नाम के दो आरोपियों ने टेलर कन्हैयालाल की दुकान में घुसकर तालीबानी तरीके से गला काटकर हत्या कर दी। इस घटना के बाद से पूरे राजस्थान में कोहराम मचा हुआ है। अशोक गहलोत सरकार ने पूरे प्रदेश में एक महीने के लिए अलर्ट जारी कर रखा है। 

udaipur tailor kanhaiya lal murder case  and  accused riyaz family statement kpr
Author
Udaipur, First Published Jun 29, 2022, 2:14 PM IST

उदयपुर (राजस्थान). उदयपुर में जिस बेरहमी से दरिंदों ने टेलर कन्हैयालाल की हत्या की है, उससे हर कोई स्तब्ध है। दिनदहाड़े हुई बर्बर हत्या ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया। घटना के बाद से पूरे राजस्थान में कोहराम मचा है। अशोक गहलोत सरकार ने पूरे प्रदेश में एक महीने के लिए अलर्ट जारी कर रखा है। मृतक के परिजनों का जहां रो-रोकर बुरा हाल है, वहीं आरोपियों के परिजनों ने भी अपना दर्द बयां किया है। उनका कहना है- इस हत्याकांड से हमारा सिर शर्म से झुका गया है।

'उसने पूरे परिवार ही नहीं, गांव का नाम भी खराब कर दिया'
दरअसल, टेलर कन्‍हैयालाल का जिन दो दरिदों ने कत्ल किया है, उनके नाम मोहम्मद रियाज और गोस मोहम्मद हैं। रियाज के परिजनों का कहना है- रियाज ने हमारे पूरे परिवार ही नहीं, गांव का नाम भी खराब कर दिया है। हम गांव के लोगों के सामने सिर नहीं उठा पा रहे हैं। पूरे आसीन्‍द गांव के लोग इस हरकत से शर्मिंदा हैं।

आरोपी के भाई ने कहा- हम शर्मिंदा हैं, उसने कहीं का नहीं छोड़ा
रियाज के भाई अब्‍दुल अय्यूब ने कहा- उसने बहुत ही गलत किया है। हमें उसने कहीं का नहीं छोड़ा। वह जब आसीन्द गांव में रहता था तो उस वक्त ऐसा नहीं था। उदयपुर जाकर गलत संगत में पड़ गया। उसने किसके कहने पर इस हत्याकांड को अंजाम दिया है यह हमें नहीं पता, लेकिन हम भी यही चाहते हैं कि प्रशासन उसे कड़ी से कड़ी सजा दे। 

रियाज का भतीजा बोला- चाचा के कुकृत्‍य से हम दुखी हैं....
रियाज के भतीजे ने कहा- चाचा ने हमारा ही नहीं, पूरे गांव का नाम खराब किया है। कल तक मैं जिनके साथ घूमता था, आज उनके सामने सिर उठाने में शर्म आती है। चाचा ऐसा कर जाएंगे, यह कभी नहीं सोचा था। चाचा के इस कुकृत्‍य पर हम दुखी हैं। उनको कानून के हिसाब से सख्त से सख्त सजा मिले, हमें इसमें कोई परेशानी नहीं है। क्योंकि उन्होंने उदयपुर के साथ-साथ हमारे गांव के भाईचारे को बिगड़ा है।

रियाज के 10 भाई-बहन, भाइयों की मौत पर भी नहीं आया घर
बता दें कि रियाज उदयपुर के खाजिपिर में रहता है और यहीं रहकर मस्जिद में खिदमत का काम करता है। हालांकि वह मूलरूप से भीलवाड़ा के आसीन्द का रहने वाला था। उसके 10 भाई-बहन हैं। रियाज के पिता जब्बार लुहार था, साल 2001 में उनकी मौत हो चुकी है। पिता के निधन के बाद वह उदयपुर में आकर अलग रहने लगा था। आसीन्‍द में रहने वाले उसके दो भाई इकबाल और युसुफ की भी मौत हो चुकी है। वहीं, रियाज के दो भाई सिराज और इस्‍लाम के परिवार अजमेर जिले विजनगर में रहते हैं। विजयनगर में रहने वाले एक भाई कय्यूम की भी मौत हो चुकी है। रियाज अपने परिवार से पूरी तरह से कट गया है। वह सुख-दुख में भी अपने घर नहीं आता है। अपने भाइयों की मौत पर भी गांव नहीं आया था।

जानिए क्या है पूरा मामला कैसे की कन्हैयालाल की हत्या
कल मंगलवार दोपहर 2 आरोपी रियाज और गोस मोहम्मद की उदयपुर के शहर के धानमंडी इलाके में मौजूद टेलर कन्हैया लाल की दुकान में घुसे। जाते ही दोनों ने कहा कि हमें कपड़े सिलवाने हैं। कन्हैया ने नाप लेना स्टार्ट कर दिया। तभी अचानक पीछे खड़े हत्यारे ने धारदार हथियार से उसके ऊपर हमला कर दिया। दोनों ने तलवार से कई वार कन्हैया के ऊपर किया। ऑन द स्पॉट उसकी मौत हो गई। बता दें, कुछ दिन पहले उसने नुपुर शर्मा के सपोर्ट में एक पोस्ट सोशल मीडिया पर डाला था। जिसके बाद समुदाय विशेष से उसको लगातार धमकियां मिल रही थीं। दोनों हत्यारे रियास और गोस मोहम्मद ने हत्या करने के बाद कहा कि हमने इस्लाम का बदला लिया है।

इसे भी पढ़ें- Udaipur Talibani murder case: 2022 में गहलोत सरकार ने 3 बार लगाया कर्फ्यू, 6 महीने में 4 जिलों में तनाव 

इसे भी पढ़ें- उदयपुर हत्याकांड में अब तक का 15 बिग अपडेटः हत्यारों की गिरफ्तारी से लेकर NIA की एंट्री तक...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios