Asianet News HindiAsianet News Hindi

उदयपुर के बाद राजसमंद में पुलिस पर तलवारों से हमला, पत्थरबाजी से लेकर फायरिंग तक हुई

राजस्थान के उदयपुर में टेलर कन्हैयालाला की हत्या के बाद शहर में तनाव का माहौल है। जिसको लेकर जगह-जगह विरोध भी होने लगा है। वहीं राजसमंद में प्रदर्शनकारियों ने तलवारों के साथ पुलिस पर हमला कर दिया। जिसमें एक कांस्टेबल गंभीर रुप से घायल हो गया है।

udaipur tension after  rajsamand policemen attacked clash between police and protesters kpr
Author
Udaipur, First Published Jun 29, 2022, 7:05 PM IST

उदयपुर. एक तरफ राजस्थान के उदयपुर में कल मंगलवार को टेलर कन्हैयालाल की बेहरमी से हुई हत्या को लेकर पूरे प्रदेश में कोहराम मचा हुआ है। राज्य सरकार ने एक महीने के लिए अलर्ट जारी कर रखा है। तो वहीं उदयपुर में जगह-जगह पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है। अभी यह मामला थमा भी नहीं था कि राजसमंद जिले में इसको लेकर विरोध कर रहे लोगों ने पुलिस कांस्टेबल पर तलवारों से हमला कर दिया। जिसमें कांस्टेबल खून से लहूलुहान हो गया, गंभीर हालत में अजमेर के अस्पताल में भर्ती किया गया है।

पुलिसकर्मी पर किया धारदार हथियारों से जानलेवा हमला
दरअसल, कन्हैयालाल की हत्या को लेकर राजसमंद जिले में कुछ लोग आरोपियों को खिलाफ विरोध कर रहे थे। पुलिस ने उनको समझाने की कोशिश करते हुए विरोध नहीं करने की समझाइश। इसी दौरन कुछ लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। जिसके चलते पुलिस को जबावी कार्रवाई के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। देखते ही देखते भीड़ से युवकों ने  धारदार हथियार से पुलिसकर्मी पर हमला कर दिया। इस हमले में भीम थाने के सिपाही संदीप चौधरी गंभीर रुप से घायल हो गए। जिसके बाद उन्हें अजमेर के लिए रेफर किया गया।

प्रदर्शनकारियों को रोकने के पुलिस करनी पड़ी फायरिंग 
घटना की जानकारी लगते हुए मौके पर भारी संख्या में पुलिस बल पहुंचा। प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए करीब 8 से 10 बार हवाई फायरिंग भी। इसके बाद पुलिस ने 40 लोगों को हिरासत में भी लिया है। वहीं जवान के अजमेर आने की खबर लगते ही राजसमंद एसडीएम राहुल जैन, सिटी थाना अधिकारी सुरेंद्र सिंह जोधा, अजमेर एसपी विकास शर्मा और जिला कलेक्टर अंशदीप भी अस्पताल पहुंच गए। साथ ही अस्पताल के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल की तैनाती कर दी गई है।  वहीं मामले की जानकारी देते हुए एसपी सुधीर चौधरी ने बताया कि उपद्रव कर रहे को चिन्हित कर लिया है। उनके खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।

इसे भी पढ़ें- Udaipur Talibani murder case: 2022 में गहलोत सरकार ने 3 बार लगाया कर्फ्यू, 6 महीने में 4 जिलों में तनाव 

इसे भी पढ़ें- उदयपुर हत्याकांड में अब तक का 15 बिग अपडेटः हत्यारों की गिरफ्तारी से लेकर NIA की एंट्री तक...

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios