Asianet News HindiAsianet News Hindi

राजस्थान में मौसम हुआ मेहरबान, झमाझम बरसी बरसात, अब ओलावृष्टि का अलर्ट

राजस्थान की तपती गर्म वातावरण में पानी की ठंडी फुहार पड़ने लगी है। प्री मानसून के कारण गुरुवार 16 जून 2022 की दोपहर में अलवर व दौसा में जमकर बारिश हो रही है। जाने मौसम का ताजा हाल.....

weather update rains continue in rajasthan state alert of hailstorm issued sca
Author
Alwar, First Published Jun 16, 2022, 3:29 PM IST

जयपुर (jaipur). राजस्थान में मौसम फिर मेहरबान हुआ है। प्रदेश के दौसा व अलवर जिले सहित आसपास के इलाकों में बरसात जमकर बरस रही है। जो बहरोड़ व आसपास में इतनी तेज है कि कुछ मिनटों में ही यहां बरसाती नाले चल गए। रुक रुककर बारिश तेज हवाओं के साथ हो रही है। जिससे कई निचले इलाकों में पानी भी भर गया है। इधर, मौसम विभाग ने तात्कालिक पूर्वानुमान में बरसात के साथ प्रदेश के कई जिलों में ओलावृष्टि की आशंका भी जारी की है। जिसका असर आगामी तीन घंटों में देखने को मिल सकता है। 

बरसात के साथ गिरेंगे ओले

मौसम विज्ञान केंद्र जयपुर के अनुसार आगामी तीन घंटों में प्रदेश के धौलपुर, दौसा, अलवर, भरतपुर, जयपुर(दक्षिण), करौली, सवाईमाधोपुर, कोटा, टोंक(उत्तर), बूंदी(दक्षिण), बारां, सीकर(पूर्व) तथा आसपास के क्षेत्रों मे  कहीं-कहीं बादल गरजने व आकाशीय बिजली के साथ हल्की से मध्यम बरसात हो सकती है। जिसके साथ अचानक 30-50 किमी प्रति घंटे की रफ्तार वाली हवाएं चल सकती है। जबकि अलवर, भरतपुर, दौसा,धौलपुर और आसपास के क्षेत्रों मे ओले गिरने की भी पॉसिबलिटी है।

चार दिन होगी बरसात

मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार प्रदेश में बरसात का असर आगामी चार दिनों तक जारी रहेगा। जिसमें गुरुवार को पूर्वी राजस्थान के अलवर, भरतपुर, झुंझुनूं और सीकर जिले और पश्चिमी राजस्थान के श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में 30 से ५० किलोमीटर प्रति घंटे की गति वाली तेज हवाओं के साथ व शुक्रवार को पूर्वी राजस्थान के अलवर, भरतपुर, झुंझुनूं, सीकर व जयपुर जिलों  व पश्चिमी राजस्थान के जैसलमेर, जोधपुर, बाड़मेर, जालौर, पाली, नागौर, चूरु, हनुमानगढ़ व श्रीगंगानगर जिले में 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे की गति की हवाओं के साथ बरसात की संभावना बनी रहेगी।

दो से तीन डिग्री गिरेगा पारा

प्री मानसून की सक्रीयता से प्रदेश में आगामी दिनों में तापमान में भी कमी आने की संभावना जताई गई है। रिपोर्ट के अनुसार पूरे प्रदेश में आगामी चार दिनों में अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री की कमी होने की संभावना है। इससे पहले बुधवार को पूर्वी राजस्थान में सबसे ज्यादा तापमान पिलानी में 42.8 व  पश्चिमी राजस्थान के गंगानगर में 45.7 डिग्री दर्ज हुआ।

"

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios