Asianet News HindiAsianet News Hindi

ब्लैक डायरी: होने वाली है शादी, याद आ रहे स्कूल टाइम वाले बैड टच के सपने-टीचर का वो छूना

सबकुछ ठीक चल रहा था। अचानक मेरी शादी तय हो गई और बुरे सपने आने लगे। मुझे स्कूल के दिनों की वो तमाम घटना याद आने लगी जिसे मैं भूल गई थी।

I am a victim of sexual abuse in school about to get married nightmares have started coming NTP
Author
Delhi, First Published Aug 9, 2022, 4:13 PM IST

रिलेशनशिप डेस्क. डर रही हूं कि शादी के बाद मेरी जिंदगी खराब ना हो जाए। मेरे पति को जब ये बात पता चलेगी तो वो मुझे छोड़ देगा या फिर मुझे अलग नजरों से देखने लगेगा। ऋतिका (बदला हुआ नाम) की ये कहानी है। ऋतिका की शादी होने वाली हैं और वो अपनी पिछली जिंदगी जिसे भूल गई थी फिर से उनके जहन में तैरने लगा है। चलिए ऋतिका की कहानी उनकी जुबानी बताते हैं।

जब मैं 8वीं क्लास में थी तो एक स्कूल टीचर पर मेरा क्रश था। वो जब पढ़ाते थे तो उन्हें देखना अच्छा लगता था। मैं मैथ्य में कमजोर थी। लेकिन वो इनती अच्छी तरह समझाते थे कि मैं कुछ दिनों में ही मैथ्य में ठीक हो गई थी। मैं उन्हें लेकर आकर्षित थी, शायद ये बाद टीचर को पता लग गई थी। एक दिन क्लास में पढ़ाते वक्त उन्होंने मेरे पीठ को सहलाया। ये टच मुझे बहुत बुरा लगा। मैं ये बात किसी को नहीं बता पाई। फिर ये हर रोज होने लगा। 

मुझे ये अच्छा नहीं लगता था। मैं ऐसे साइड में जाकर बैठने लगी थी कि उसकी पहुंच से दूर रहूं। एक दिन जब मैं क्लास रूम में अकेली थी तब वो टीचर वहां आ गया और मेरा हाथ पकड़ लिया। मैंने छुड़ाने की कोशिश की तो उसने मेरे ब्रेस्ट पर हाथ रख दिया। मैं डर गई और वहां से भाग गई। मैं किसी को कुछ नहीं बता पाई। इसके बाद मेरी तबीयत बिगड़ गई और कुछ दिन स्कूल जाने से बच गई। जब मैं स्कूल गई तो पता चला कि उस टीचर की नौकरी कहीं और लग गई हैं। तब मुझे सुकून आया। लेकिन इस घटना के बाद मैं अंदर से इतना डर चुकी थी कि किसी लड़के से बात भी नहीं कर पाती थी।

धीरे-धीरे मैं इस घटना को भूल गई। जॉब भी करने लगी हूं और लड़के दोस्त भी हैं। लेकिन जब शादी तय हुई तो पता नहीं क्यों रात में मुझे डरावने सपने आने लगे हैं। वो टीचर में सपने में आता है और मेरे साथ जबदस्ती करने की कोशिश करता है। मुझे डर है कि शादी के बाद शायद मैं अपने पति को ठीक से अपना ना पाऊं। क्या करूं समझ में नहीं आ रहा है।

एक्सपर्ट- ऋतिका  सबसे पहले ये स्वीकार कीजिए कि आपने कुछ गलत नहीं किया है। अपने मन में ये गिल्ट ना रखे। दूसरी बात आप ने जो सहा है उसके बारे में बात कीजिए, जो आपका सबसे करीबी हो। ये मां भी हो सकती है, दोस्त भी हो सकती है या फिर पापा-भाई को भी हो सकता है। जिसपर आपको भरोसा है कि वो आपको सुनेंगे और संभालेंगे। इससे आपका मन हल्का होगा। क्योंकि आपकी शादी होने वाली हैं ऐसी स्थिति में इसे भूलाकर आगे बढ़ना होगा। आपका नए परिवार से रिश्ता जुड़ने जा रहा है अगर आप अंदर से दुखी रहेंगी तो उनका भी जीवन प्रभावित होगा। तीसरी बात कि अगर आपके अंदर इतनी हिम्मत है तो फिर उस टीचर के खिलाफ कंप्लेन कीजिए। कई ऐसी महिला हेल्पलाइन हैं जो नाम जाहिर किए आपकी मदद कर सकती हैं। इससे आपके अंदर का वो बोझ भी उतर जाएगा कि आपने उस टीचर को सबक नहीं सीखाया। चौथी बात अगर आपका अरेंज मैरेज है तो लड़के को ये बात अभी बिल्कुल ना बताए। क्योंकि मर्द का इगो प्रभावित हो सकता है। बाद में अगर लगे कि आपके पति भी आपकी तरह इमोशनल हैं और आप और वो सेम पेज पर हैं तो फिर इस घटना का जिक्र कर सकती हैं। फिलहाल तो खुद में आत्मविश्वास लाइए और आगे बढ़िए। 

दुनिया में आधी आबादी में से 36 प्रतिशत लड़कियां यौन शोषण की होती है शिकार

बता दें कि दुनिया की आधी आबादी में से 36 प्रतिशत लड़कियां शारीरिक या यौन हिंसा की शिकार होती है। WHO के मुताबिक विश्व में 18 वर्ष से कम उम्र के 7.9 प्रतिशत लड़के एवं 19.7 प्रतिशत लड़कियाँ यौन हिंसा की शिकार हैं। 10 प्रतिशत लड़कियों को जहां 10 से 14 वर्ष से कम उम्र में यौन दुर्व्यवहार का सामना करना पड़ा। वहीं 30 प्रतिशत ने 15 - 19 वर्ष के दौरान यौन शोषण का दर्द झेलना पड़ता है।

बड़े होने पर भी इस दर्द से नहीं हो पाती हैं मुक्त

बचपन में यौन शोषण की शिकार लड़कियों में डिप्रेशन, बुरे सपने, आत्मग्लानि , आत्मविश्वास की कमी के मामले देखे जाते हैं। यह मनोविकार उसके जीवन का हिस्सा बनकर अपराधबोध बन जाता है। जिसकी वजह से बच्चे कई बार बड़े होने पर भी मानसिक ग्लानि से निकल नहीं पाते हैं।
 

और पढ़ें:

जीजा संग बेडरुम में मजे कर रही थी दुल्हन,शादी के दिन दूल्हे ने Video दिखा खोल दी पोल

तू पति की नहीं हुई तो मेरी क्या होगी...प्रेमी का ये ताना सुन प्रेमिका बन गई कातिल

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios