4 महीने से नहीं मिला था वेतन, पति बन गया जल्लाद, काट डाली पत्नी और 3 बेटियों की गर्दन

| Nov 30 2022, 12:51 PM IST

4 महीने से नहीं मिला था वेतन, पति बन गया जल्लाद, काट डाली पत्नी और 3 बेटियों की गर्दन

सार

पिता अपने बच्चों के लिए क्या कुछ नहीं कर गुजरता है। लेकिन एक ऐसे हैवान पिता की तस्वीर सामने आई है जिसने आर्थिक तंगी की वजह से अपनी तीन बेटियों का गला रेत दिया। इतना ही नहीं पत्नी को भी मौत के घाट उतार दिया। चलिए वारदात की पूरी कहानी और कहां से जुड़ी है वो बताते हैं।

रिलेशनशिप डेस्क. जब एक पुरुष पति और पिता बनता है तो अपनी फैमिली को खुश रखने के लिए कुछ भी कर गुजरता है। उनपर कोई संकट नहीं आए इसके लिए वो खुद मुसीबतों के आगे खड़ा हो जाता है। लेकिन पाकिस्तान के कराची से एक ऐसे पति और पिता की तस्वीर सामने आई है , जिसने आर्थिक तंगी की वजह से अपना भरापूरा परिवार तबाह कर दिया और सलाखों के पीछे पहुंच गया।

वीभत्स घटना मलीर के शम्सी सोसाइटी स्थित एक घर में हुई। मंगलवार (29 नवंबर) को 45 साल के फवाद ने अपनी पत्नी हुमा का गला रेत दिया। इसके बाद अपनी तीन बेटियां दस वर्षीय निमरा, 16 वर्षीय नेहा और 12 वर्षीय फातिमा को भी नहीं बख्शा। उसने एक-एक करके सबका गला रेत कर मौत के नींद सुला दिया। 

Subscribe to get breaking news alerts

फैमिली को मारकर फवाद ने खुद सुसाइड करने की कोशिश की

पुलिस को सूचना मिलने के बाद जब वो घर में दाखिल हुई तो हैरान रह गई, चारों तरफ खून ही खून फैले थे। दो बेडरुम अपार्टमेंट में एक कमरे में मां और दो बेटियों का शव पड़ा हुआ था। वहीं, दूसरे कमरे में तीसरी बेटी की लाश मिली। वहीं फवाद गंभीर अवस्था में मिला। दरअसल, पूरे परिवार की हत्या करने के बाद उसने भी सुसाइड करने की कोशिश की थी। पुलिस ने उसे उसे अस्पताल में पहुंचाया।

हत्या में कोई बाहरी व्यक्ति नहीं है शामिल

हत्याओं के पीछे किसी बाहरी व्यक्ति की संभावना से इनकार करते हुए, पुलिस अधिकारियों ने फवाद पर हत्याओं को अंजाम देने का संदेह जताया। प्रारंभिक जांच से पता चला है कि परिवार के मुखिया फवाद ने अपनी जान लेने की कोशिश करने से पहले उन्हें मार डाला क्योंकि घटना के बाद घर अंदर से बंद था। उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया।

चार महीने से नहीं मिला था वेतन

निजी फर्म में सेल्स मैनेजर के रूम में काम करने वाले फवाद ने क्यों अपने परिवार की हत्या की इसके पीछे वजह आर्थिक तंगी बताया जा रहा है। कुछ लोगों ने बताया कि फवाद और उसकी पत्नी के बीच आए दिन लड़ाई होती थी। लेकिन जब उसकी मां से पूछताछ की गई तो उसने बताया कि दोनों के बीच ऐसा कोई मसला नहीं था। हालांकि यह सामने आया कि फवाद को चार महीने से वेतन नहीं मिला था।

बाद में घायल फवाद ने पुलिस के सामने अपना इकबालिया बयान दर्ज कराया। पुलिस को दिए अपने शुरूआती बयान में फवाद ने कहा कि वह पैसों की तंगी की वजह से डिप्रेशन में था। मैं अपनी पत्नी को समझा-बुझाकर थक गया था। मैंने सभी को मारने और खुद को मारने का फैसला किया। 

और पढ़ें:

खूबसूरत बैंक मैनेजर को चौकीदार की आवाज से हुई मोहब्बत, अपना बनाने के लिए कर डाला ये काम

खेल-खेल में 3 साल के बेटे ने की ऐसी गलती, पिता ने उसी से भरवाया 22 हजार रुपए का जुर्माना