40 साल बाद सीरियल रेपिस्ट की हुई पहचान,31 महिलाओं को बनाया अपना शिकार, लेकिन पुलिस नहीं कर सकती गिरफ्तार

| Nov 26 2022, 01:39 PM IST

40 साल बाद सीरियल रेपिस्ट की हुई पहचान,31 महिलाओं को बनाया अपना शिकार, लेकिन पुलिस नहीं कर सकती गिरफ्तार
40 साल बाद सीरियल रेपिस्ट की हुई पहचान,31 महिलाओं को बनाया अपना शिकार, लेकिन पुलिस नहीं कर सकती गिरफ्तार
Share this Article
  • FB
  • TW
  • Linkdin
  • Email

सार

फैमिली को नहीं पता था कि उसके घर का सबसे बुजुर्ग इंसान जिसे वो बहुत प्यार करते हैं वो सीरियल किलर निकलेगा। लेकिन उसे पुलिस गिरफ्तार नहीं कर सकती है। जानें 31 महिलाओं को अपना शिकार बनाने वाले हैवान को क्यों नहीं भेजा जा सकता है सलाखों के पीछे।

रिलेशनशिप डेस्क.15 सालों में उसने 31 महिलाओं को अपनी हवस का शिकार बनाया। 15 से 55 साल की महिलाएं का रेप करके वो एक खुशहाल जिंदगी जा रहा था। किसी को भनक नहीं था कि उसके चेहरे के पीछे शैतान छुपा हुआ है। भरपूरे परिवार में वो अच्छी लाइफ जीता रहा और साल 2022 में इस दुनिया से चला गया। उसके गुनाहों की सजा उनसे यहां नहीं मिल पाई। 40 साल बाद उस हैवान का चेहरा सामने आया, लेकिन पीड़िता को इंसाफ नहीं मिल पाया।

ऐसे बनाता था महिलाओं को शिकार

Subscribe to get breaking news alerts

ऑस्ट्रेलिया में रहने वाले कीथ सिम्स (Keith Simms) ने 1986 से 2001 के बीच क्रूर बलात्कार किए। 15 साल की लड़की से लेकर 55 साल की महिला को उसने अपने हवस का शिकार बनाया। यह रेपिस्ट महिलाओं के घर में घुसकर रेप करता था या फिर जब वो एक्सरसाइज के लिए बाहर जाती थी तो उनका अपहरण करके उनकी अस्मत को लूटता था। रेप की शिकार हुई पीड़िता पुलिस को बताती थी कि वह काले रंग का लंबा आदमी है। वह ज्यादातर मास्क और स्पोर्ट्स गियर पहनता था। पहले तो पुलिस को लगता था कि यह कोई गैंग हैं, जिसके अलग-अलग सदस्य ऐसा काम कर रहे हैं। लेकिन जांच में पता चला की वो एक ही है। पीड़ितों में से 12 का डीएनए समान था और अन्य 19 घटनाएं हमलावर के तौर तरीकों से मेल खाती थीं।  डीएनए तकनीक की बदौलत जांचकर्ताओं को बता चला कि इन सबके पीछे एक ही शख्स था। 

पुलिस के पहुंचने से पहले हुई मौत

लेकिन जब तक पुलिस उस तक पहुंच पाती वो मर चुका था। कीथ सिम्स की 66 साल की आयु में मौत हो गई। फरवरी साल 2022 में मौत होने के बाद पुलिस उसके परिवार के सदस्यों से डीएनए सैंपल लिया। फिर पीड़ितों के साथ मिलान किया। जिसके बाद पता चला कि कीथ कितना हैवान था। उसका परिवार सदमे में है।  उसकी पत्नी को विश्वास नहीं हो रहा है कि वह एक ऐसे व्यक्ति के साथ रहती है जो ऐसी चीजें करता था। बता दें कि अलग-अलग समय में इस रेपिस्ट को “द बोंडी बीस्ट” या “द ट्रैकसूट रैपिस्ट” के रूप में जाना जाता था।

और पढ़ें:

कम उम्र में शादी ले रही है जान! डिप्रेशन और सुसाइड की शिकार हो रही हैं जवान होती बेटियां

भारत में भी Same-Sex मैरेज को मिलेगी कानूनी मान्यता? SC याचिका पर सुनवाई को तैयार