उज्जैन. सामान्य लगने वाली कुछ आदतें भी आपका बुरा समय लेकर आ सकती है। और आपके साथ-साथ आपके परिवार के लिए भी परेशानियां बढ़ा सकती हैं। शुक्रनीति में ऐसे ही चार कामों के बारे में बताया गया है, जिनसे हर किसी को दूर ही रहना चाहिए। ये काम करने से किसी भी इंसान का बुरा समय शुरू हो सकता है।

श्लोक
अनृतात् पारदार्याच्च तथाभक्ष्यस्य भक्षणात्।
अगोत्रधर्माचरणात् क्षिप्रं नश्यति वै कुलम्।।

अर्थ- पराई स्त्री से संबंध, परंपराओं के खिलाफ काम करना, मांसाहार के लिए जीवों को मारना और झूठ बोलना। ये काम हमें विनाश की ओर ले जाते हैं।

पराई स्त्री से संबंध
पराई स्त्री से संबंध बनाना राक्षसों की प्रवृत्ति मानी जाती है। जो इंसान ऐसा करता है उसे उसके अच्छे कर्मों का फल मिलना भी बंद हो जाता है। और उसका बुरा शुरू हो जाता है।   

परंपराएं न मानना
कई लोग परंपराओं का पालन नहीं करते। जो मनुष्य घर के नियम और परंपराओं का सम्मान नहीं करते, वो अक्सर गलतियां करते हैं। और अंत में वही परिवार के विनाश का कारण बनते हैं।

मांसाहारी होना
ग्रंथों में जीवों की हत्या करने की मनाही है। ऐसा करने वाले मनुष्य से भगवान नाराज रहते हैं और उसे पूजा का फल भी नहीं मिलता।

झूठ बोलना
झूठ बोलने की आदत अधिकतर लोगों में पाई जाती है, लेकिन यह आदत बर्बादी का कारण भी बन सकती है। झूठ बोलने से न सिर्फ आपको बल्कि आपके परिवार को भी दुखों और परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।