Google के 1.5 लाख कर्मचारियों पर लटकी छंटनी की तलवार, जानें क्या होगा Sundar Pichai का अगला फैसला

| Jan 24 2023, 10:03 AM IST

Google

सार

गूगल में हुई छंटनी से कंपनी के इनवेस्टर्स संतुष्ट नहीं हैं। गूगल के सबसे बड़े निवेशक ब्रिटिश हेज फंड बिलियनेयर क्रिस्टोफर हॉन ने सुंदर पिचाई को पत्र लिखकर 20% कर्मचारियों को हटाने को कहा है। अब सुंदर पिचाई के अगले कदम पर हर किसी की नजर है।

टेक डेस्क : क्या गूगल में नहीं थमेगा छंटनी (Google Layoffs) का दौर, क्या आगे भी वर्कफोर्स में होती रहेगी कटौती? दरअसल, गूगल (Google) के निवेशकों ने कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को एक पत्र लिखकर और भी कर्मचारियों को हटाने की सलाह दी है। इस खबर के बाद से ही गूगल के एम्प्लॉइज में एक बार फिर हलचल है। दरअसल, अभी हाल ही में गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट इंक (Alphabet Inc) ने अपने 12,000 कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है। यह कुल कर्मचारियों का सिर्फ 6 प्रतिशत हैं। इस छंटनी से कंपनी के निवेशक संतुष्ट नहीं हैं। गूगल के सबसे बड़े निवेशक ब्रिटिश हेज फंड (Hedge Fund) बिलियनेयर क्रिस्टोफर हॉन (Christopher Hohn) ने सुंदर पिचाई को पत्र लिखकर 20% कर्मचारी यानी करीब 1.5 लाख कर्मचारियों को हटाने को कहा है।

क्या होगा गूगल का अगला फैसला

Subscribe to get breaking news alerts

क्रिस्टोफर हॉन का यह लेटर सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 20 जनवरी को यह पत्र लिखा गया था, जिसमें सुंदर पिचाई को 12,000 कर्मचारी हटाने के लिए बधाई देते हुए उन्होंने लिखा था कि कर्मचारियों को हटाना सही दिशा में उठाया गया कदम है, लेकिन इससे पिछले साल जो कर्मचारी बढ़ाए गए थे, उनकी संख्या कम नहीं होती है। इसलिए मैनेजमेंट को और भी आगे जाने की जरुरत है। जिसके बाद गूगल के फैसले पर हर किसी की निगाह टिक गई है।

'कम से कम 20 प्रतिशत कटौती की जरूरत'

क्रिस्टोफर ने कहा कि कंपनी पिछले पांच साल में कर्मचारियों को दोगुना किया है। मैनेजमेंट को कम से कम 1.5 लाख कर्मचारियों को हटाने की जरूरत है। ताकि अल्फाबेट में हेड काउंट साल 2021 के आखिरी महीनों में जितने थे, उतने हो सके। इसके लिए कम से कम 20% कटौती की आवश्यकता है।

सुंदर पिचाई को चिट्ठी लिखने वाले क्रिस्टोफर हॉन कौन हैं

क्रिस्टोफर हॉन ब्रिटिश इनवेस्टर हैं. 2003 में लंदन स्थित हेज फंड चिल्ड्रन्स इन्वेस्टमेंट फंड मैनेजमेंट की स्थापना उन्होंने की थी। फोर्ब्स के अनुसार, उनकी कुल संपति 7.9 अरब डॉलर है। वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो गूगल की पेरेंट कंपनी अल्फाबेट में हॉन की कंपनी ने कुल 6 अरब डॉलर का निवेश किया है। पिछले साल हॉन तब चर्चा में आए थे, जब उन्होंने खुद के लिए प्रति दिन 15 लाख यूरो की सैलरी फिक्स की थी।

इसे भी पढ़ें

'प्रेग्नेंट हूं जॉब भी नहीं ढूंढ सकती, अब क्या करूं..' Google से निकाले जाने पर 8 महीने की प्रेग्नेंट एम्प्लॉई का दर्द

 

'आपको डिस्पोजेबल समझती हैं बड़ी कंपनियां, इसलिए सिर्फ काम मत करो, जिंदगी भी जियो'..Google से निकाले जाने पर छलका दर्द