Asianet News HindiAsianet News Hindi

लड़की की दिल दहला देने वाली कहानी: कहा- मेरी न्यूड फोटो ले ली, उसे दिखाकर मुझे अपने घर बुलाते हैं और हर दिन..

पीड़िता ने पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत में कहा, चार लोग पिछले दो साल से 10-15 दिनों में मेरा यौन उत्पीड़न करते हैं। मेरी नग्न तस्वीर (girl nude photo) का इस्तेमाल कर मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं। 

Assam woman accuses four people of gang rape in Bongaigaon district
Author
Assam, First Published Oct 15, 2021, 9:42 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

असम (Assam). बोंगाईगांव जिले (Bongaigaon district) में एक महिला ने 4 लोगों पर सामूहिक बलात्कार (gang rape) का आरोप लगाया। महिला ने कहा कि चार लोगों ने मिलकर करीब 2 साल तक उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया। इतना ही नहीं, जब पीड़िता ने शिकायत करने की बात कही तो उसे और उसके परिवार को जान से मारने की धमकी दी गई। जैसे तैसे उसने पुलिस तक अपनी बात पहुंचाई, लेकिन वहां भी निराशा ही हाथ लगी। महिला का आरोप है कि पुलिस ने शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की।

सोशल मीडिया पर डाली न्यूड तस्वीरें
महिला ने अपनी शिकायत में कहा कि असम के बोंगाईगांव जिले में चार लोगों ने सामूहिक दुष्कर्म किया। शिकायत दर्ज कराने के बाद भी पुलिस निष्क्रिय बनी रही। आरोपी ने उसकी आपत्तिजनक तस्वीरें  (girl nude photo) सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पोस्ट कर वायरल कर दीं। उसे ब्लैकमेल किया। उसका चेहरा काला करके बेइज्जत किया। यहां तक ​​कि उसके परिवार को जान से मारने की धमकी भी दी।

आरोपी मोहल्ले के ही रहने वाले हैं
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक 23 साल की पीड़िता बोंगईगांव जिले के बौडी बाजार भालागुरी इलाके की रहने वाली है। आरोपी उसके मोहल्ले के ही हैं। वे पिछले 2 साल से उसे परेशान कर रहे हैं और ब्लैकमेल कर सामूहिक बलात्कार कर रहे हैं। पीड़िता ने 29 सितंबर को बोंगईगांव सदर थाने में चार लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। हालांकि पीड़िता का कहना है कि मामला दर्ज करने के बाद भी पुलिस ने खुलेआम घूम रहे आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की।

बच्चे और पति को जान से मारने की धमकी दी
पीड़िता ने पुलिस के पास दर्ज कराई गई शिकायत में कहा, चार लोग पिछले दो साल से 10-15 दिनों में मेरा यौन उत्पीड़न करते हैं। मेरी नग्न तस्वीर का इस्तेमाल कर मुझे ब्लैकमेल कर रहे हैं। उन्होंने मुझे मेरे बच्चों और पति को जान से मारने की धमकी भी दी। महिला ने बताया कि पति दिल्ली में एक प्राइवेट कंपनी में काम करते थे। कोविड के दौरान घर वापस आ गए। न्याय के लिए कई पुलिस अधिकारियों से मुलाकात की, लेकिन किसी ने मदद नहीं की। वहीं बोंगईगांव जिले के एसपी स्वप्निल डेका ने कहा कि एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। इस मामले में एक क्रॉस केस भी दर्ज किया गया था। जांच जारी है। पीड़िता का मेडिकल कराने के बाद बयान भी लिया गया। 

एनसीआरबी के 2020 के आंकड़ों के मुताबिक, असम में महिलाओं के खिलाफ क्राइम रेट 154.3 थी, जो नेशनल क्राइम रेट 56.5 से अधिक है। 2017 में असम में महिलाओं के खिलाफ क्राइम रेट 143.3 था, 2018 में 166 और 2019 में 177 हो गया। 

ये भी पढ़ें..

James Bond की फिल्म में इस्तेमाल पुल के साथ सेल्फी लेना चाहती थी लड़की, लेकिन एक चूक से हुई मौत

ये प्रथा अजीब है! इस देश में पति की मौत होने पर कुल्हाड़ी से काट देते हैं पत्नी की उंगलियां

सावधान! अपने बच्चों की जरूरत से ज्यादा तारीफ करते हैं तो संभल जाइए, हो सकता है भारी नुकसान

विमान में विंडो सीट पर बैठने का क्या खतरा है, flight attendant ने किया डराने वाला खुलासा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios