Asianet News HindiAsianet News Hindi

इस पिता से सीखें देशभक्ति: एक बेटा देश के लिए शहीद, अंतिम संस्कार में ही कहा- दूसरा बेटा दुश्मनों से लड़ेगा

शहीद बेटे के अंतिम संस्कार के दौरान पिता ने जो बातें कहीं, उसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो देखने के बाद लोगों ने कहा, इस पिता से सीखनी चाहिए कि क्या होती है देश सेवा।

Manipur father of martyr rifleman Khatnei Konyak martyred viral video kpn
Author
Manipur, First Published Nov 17, 2021, 9:51 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

टिजिट (नागालैंड). मणिपुर (Manipur) आंतकी हमले में शहीद हुए जवान (Father of Rifleman Kathnei Konyak) के पिता का एक बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। बेटे के शहीद हुए कुछ ही दिन हुए, लेकिन पिता का साहस अब भी कम नहीं हुआ है। उन्होंने साफ शब्दों में कहा कि अभी उनका एक बेटा जिंदा है। वह देश की सेवा करना जारी रखेगा। स्थानीय नागरिकों ने इस वीडियो को बनाया, जो वायरल हो रहा है।

"आज एक बेटा लौट आया, दूसरा देशसेवा करता रहेगा"
राइफलमैन कथनेई कोन्याक (Rifleman Kathnei Konyak) 13 नवंबर को मणिपुर आतंकी हमले में शहीद हो गए थे। नागालैंड के तिजित (Tizit) में उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान कथनेई के पिता ने कहा, मैंने अपने दो बेटों को देश की सेवा के लिए दिया। आज एक लौट आया है। मेरे पास एक और है। कोन्याक भाइयों को हर तरह से देश की सेवा करते रहना चाहिए। मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह (Manipur Chief Minister N Biren Singh) ने रविवार को मणिपुर के चुराचांदपुर जिले में शहीद हुए जवानों को पुष्पांजलि अर्पित की।

एन बीरेन सिंह ने ट्वीट कर कहा, भारी मन से हमारे वीर सैनिकों को पुष्पांजलि अर्पित की। वे भीषण आतंकी हमले में शहीद हुए थे। उनकी आत्मा को शांति मिले। ओम शांति!। आतंकवादियों ने असम राइफल्स के काफिले पर उस समय हमला किया जब असम राइफल्स की 46 बटालियन के कर्नल म्यांमार की सीमा से लगे चुराचांदपुर में पेट्रोलिंग कर रहे थे। शनिवार को मणिपुर में भारत-म्यांमार सीमा के पास आतंकवादियों ने घात लगाकर हमला किया था, जिसमें कर्नल विप्लव त्रिपाठी उनकी पत्नी और 8 साले के बेटे सहित चार जवान शहीद हो गए।

ये भी पढ़ें...

साधारण नहीं, एक पुलिसवाली है ये लड़की, इसे लेकर ऑफिस में ऐसी अफवाह उड़ी कि करना पड़ा सस्पेंड

कुत्ते के पिंजरे में बंद थी 6 साल की बच्ची, मुंह पर लगा था टेप, बहन ने बताई दर्दनाक मौत की पूरी कहानी

एक झटके में खत्म हुआ पूरा परिवार: पहले ब्लास्ट फिर अंधाधुंध गोलियां, गाड़ी में थे कर्नल उनकी पत्नी और बच्चा

कोरोना के बाद फैल सकती है एक और महामारी, चीन के बाजारों में मिले 18 हाई रिस्क वाले वायरस

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios