Asianet News HindiAsianet News Hindi

रतन टाटा की 5 प्रेरक बातें, जब लोगों ने कहा था कि 1 लाख में कार असंभव है, टाटा ने 'संभव' कर दिखाया

हाल ही में रतन टाटा के स्पीच की एक क्लिप सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हुई है, जिसमें 84 वर्षीय बिजनेस टाइकून(business tycoon) ने अपने जीवन की एक महत्वपूर्ण बात शेयर की है कि वास्तव में उनकी सबसे बड़ी खुशी क्या है?

Ratan Tata motivational speech Harsh Goenka, Chairman of RPG Enterprises posted a video on Twitter kpa
Author
First Published Sep 27, 2022, 12:39 PM IST

ट्रेंडिंग न्यूज. रतन नवल टाटा ((Ratan Tata-जन्म-28 दिसंबर 1937, मुम्बई) टाटा समूह के वर्तमान अध्यक्ष। अकसर अपने सहज-सरल स्वभाव के कारण मीडिया की सुर्खियों में बने रहते हैं। हाल ही में रतन टाटा के स्पीच की एक क्लिप सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल हुई है, जिसमें 84 वर्षीय बिजनेस टाइकून(business tycoon) ने अपने जीवन की एक महत्वपूर्ण बात शेयर की है कि वास्तव में उनकी सबसे बड़ी खुशी क्या है? रतन टाटा अपनी तरह की इकलौती शख्सियत हैं। हालांकि टाटा ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज(Tata Group of Industries) के एमेरिटस चेयरमैन होने के नाते उन्हें कई अन्य कारणों से जाना जाता है, उनमें से एक उनके प्रेरक भाषण भी हैं। वे एक परोपकारी व्यक्ति भी हैं, जो अकसर बड़ी राशि दान करते आए हैं।

pic.twitter.com/WlhndTIbhe

RPG के चेयरमैन हर्ष गोयनका ने शेयर किया वीडियो
आरपीजी एंटरप्राइजेज के चेयरमैन हर्ष गोयनका ने अपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल पर एक वीडियो पोस्ट किया है। इसमें रतन टाटा ने कहा, "मुझे सबसे बड़ी खुशी कुछ कोशिश करने की रही है,  जबकि हर कोई कहता है कि 'नहीं किया जा सका'।"  रतन टाटा की सरल विनम्रता और उनके प्रेरक भाषणों ने लोगों का दिल जीत लिया है। लोग उन्हें 'लीजेंड' कहते हैं। वीडियो पर कमेंट बॉक्स में कई प्रतिक्रियाएं मिली हैं।

एक यूजर ने कहा, "सच है। इसलिए जब ऑटोमोबाइल उद्योग ने रतन टाटा को बताया कि 1,00,000 रुपये से कम कीमत में एक पैसेंजर कार का निर्माण संभव नहीं है, तो उन्होंने आगे बढ़कर "असंभव" का निर्माण किया। उन्होंने इस प्रोजेक्ट को बहुत ही लगन से अंजाम दिया और उन सभी को गलत साबित किया, जिन्होंने कहा कि "यह नहीं किया जा सकता।"

एक यूजर ने लिखा, 'सब में एक जैसा उत्साह होना चाहिए। हम शुरू में "नहीं किया जा सका" के बारे में सोचते रहते हैं। हम मूल्यांकन किए बिना संभव को असंभव में बदल देते हैं। टाटा "कर सकते हैं" रवैये के साथ अलग साबित हुए हैं। 

रतन टाटा के टॉप 5 प्रेरक मंत्र 
1.
हमें चलते रहने के लिए जीवन में उतार-चढ़ाव बहुत महत्वपूर्ण हैं क्योंकि एक सीधी रेखा, यहां तक कि एक ईसीजी में भी, इसका मतलब है कि हम जीवित नहीं हैं।"

2. “यदि आप तेजी से चलना चाहते हैं, तो अकेले चलें। लेकिन अगर आप दूर तक चलना चाहते हैं, तो साथ-साथ चलें।"

3. “उन पत्थरों को ले लो जो लोग तुम पर फेंकते हैं और स्मारक बनाने के लिए उनका इस्तेमाल करें।"

4.“लोहे को कोई नष्ट नहीं कर सकता, लेकिन उसको जंग लग सकता है। इसी तरह, कोई भी व्यक्ति को नष्ट नहीं कर सकता, लेकिन उसकी अपनी मानसिकता कर सकती है।"

5. "मैंने रास्ते में कुछ लोगों को चोट पहुंचाई है, लेकिन मैं किसी ऐसे व्यक्ति के रूप में देखा जाना चाहता हूं, जिसने किसी भी स्थिति के लिए सही काम करने की पूरी कोशिश की है और समझौता नहीं किया है।"

यह भी पढ़ें
आनंद महिंद्रा ने शेयर किया पोर्टेबल मैरेज हॉल का वीडियो, कहा- ये है असली क्रिएटिविटी
इतिहास में पहली बार एस्टेरॉयड और स्पेस क्रॉफ्ट की टक्कर, पृथ्वी को बचाने NASA का एक्सपेरिमेंट सक्सेस

 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios