Asianet News HindiAsianet News Hindi

40 कैदियों वाले सेल में अकेले रहना- आईफोन का इस्तेमाल, कौन है सुकेश चंद्रशेखर, जेल में राजा की तरह रहता है

करीब एक साल से जेल में बंद सुकेश चंद्रशेखर से जुड़ी कुछ सीसीटीवी फुटेज की तस्वीरें सामने आई हैं। तस्वीर इसी साल 7 अगस्त की है।

Sukesh Chandrashekhar lives like a king by paying 12 crores in Tihar Jail kpn
Author
New Delhi, First Published Nov 17, 2021, 8:14 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

नई दिल्ली. इन दिनों सुकेश चंद्रशेखर का नाम चर्चा में है। वजह भी बहुत दिलचस्प है। उसके ऊपर जेल के अंदर से ही 200 करोड़ रुपए की वसूली करने का आरोप है। इस केस में उसके पांच मददगारों को भी गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों में तिहाड़ जेल के आला अधिकारी भी शामिल हैं। कुछ दिनों पहले ही तिहाड़ जेल ने कहा था कि सुकेश पर नजर रखने के लिए उसके बैरक के आसपास करीब 55 सीसीटीवी कैमरे लगाए गए थे। हालांकि अब उन्हीं कैमरों में कुछ ऐसी तस्वीरें कैद हुई हैं जो चौंकाने वाली हैं। 

एक साल में 12 करोड़ रुपए दिए
करीब एक साल से जेल में बंद सुकेश चंद्रशेखर से जुड़ी कुछ सीसीटीवी फुटेज की तस्वीरें सामने आई हैं। तस्वीर इसी साल 7 अगस्त की है। आज तक की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सुकेश ने जेल के अंदर खुद के ऐशोआराम के लिए एक साल में 12 करोड़ रुपए दिए हैं। इस आरोप का आधार पुलिस की चार्जशीट है, जिसमें कहा गया है कि जेल के अंदर जेल स्टाफ बिका हुआ है। सुकेश सबकों पैसा देता था। एक महीने का एक करोड़ रुपए। 

जेल में आईफोन से करता था वसूली
चार्जशीट के मुताबिक, साल भर सुकेश के पास मोबाइल फोन था। वो भी आईफोन। इन्हीं नंबरों से वह जेल से बाहर लोगों को फोन करता और उनसे पैसे ऐंठता था। आरोप तो ये भी है कि कई बार पैसे लेने के लिए जेल के स्टाफ को ही भेज दिया जाता था। फिलहाल, इस केस में जेल के 8 अधिकारियों को गिरफ्तार किया गया है। इसमें जेल सुप्रींटेंडेट, डिप्टी सुपरीटेंडेट से लेकर कई पुलिसवाले शामिल हैं। 

हर कैमरे पर लगाया गया था कपड़ा
चार्जशीट के मुताबिक, जेल के अंदर भले ही सीसीटीवी कैमरा लगा हो, लेकिन हर कैमरे पर कपड़ा डाल दिया गया जाता था, जिससे की अंदर की तस्वीर न ली जा सके। जेल में इंटरटेनमेंट का पूरा साधन मौजूद था। नहाने के लिए शैम्पू, साबुन सबकुछ। इतना ही नहीं। पैसे देने की वजह से 40 कैदियों वाले बैरक में सुकेश अकेला ही रहता था। 

दरअसल, इस महीने की शुरुआत में दिल्ली पुलिस ने रैनबैक्सी के पूर्व प्रमोटर मलविंदर मोहन सिंह की पत्नी को ठगने के आरोप में सुकेश चंद्रशेखर, उसकी पत्नी लीना मारिया पॉल और 12 अन्य के खिलाफ आरोप पत्र दायर किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जांच अधिकारियों ने पाया कि सुकेश चंद्रशेखर को जेल के अंदर अलग सेल दी गई है। ईओडब्ल्यू ने यह भी पाया कि सुकेश चंद्रशेखर को छह महीने के लिए पैरोल पर बाहर रखा गया था। पूछताछ के दौरान, सुकेश चंद्रशेखर ने कथित तौर पर दावा किया कि उसने तिहाड़ जेल के अधिकारियों को उसकी मदद के लिए करोड़ों रुपए की घूस दी थी।

ये भी पढ़ें...

साधारण नहीं, एक पुलिसवाली है ये लड़की, इसे लेकर ऑफिस में ऐसी अफवाह उड़ी कि करना पड़ा सस्पेंड

कुत्ते के पिंजरे में बंद थी 6 साल की बच्ची, मुंह पर लगा था टेप, बहन ने बताई दर्दनाक मौत की पूरी कहानी

एक झटके में खत्म हुआ पूरा परिवार: पहले ब्लास्ट फिर अंधाधुंध गोलियां, गाड़ी में थे कर्नल उनकी पत्नी और बच्चा

कोरोना के बाद फैल सकती है एक और महामारी, चीन के बाजारों में मिले 18 हाई रिस्क वाले वायरस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios