उज्जैन.  ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, इस तिथि पर माता लक्ष्मी की उपासना करना श्रेष्ठ रहता है। इस दिन कुछ खास उपाय करने से हर मनोकामना पूरी हो सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं-

धन लाभ के लिए उपाय
-अक्षय तृतीया की रात करीब 10 बजे नहाकर साफ पीले रंग के कपड़े पहन लें।

-इसके बाद उत्तर दिशा की ओर मुख करके ऊन या कुश के आसन पर बैठ जाएं।

-अब अपने सामने पटिए (बाजोट या चौकी) पर एक थाली में केसर का स्वस्तिक या ऊं बनाकर उस पर महालक्ष्मी यंत्र स्थापित करें।

-इसके बाद उसके सामने एक दिव्य शंख थाली में स्थापित करें।

-अब थोड़े से चावल को केसर में रंगकर दिव्य शंख में डालें।

-घी का दीपक जलाकर नीचे लिखे मंत्र का कमल गट्टे की माला से 11 माला जाप करें-
सिद्धि बुद्धि प्रदे देवि भुक्ति मुक्ति प्रदायिनी।
मंत्र पुते सदा देवी महालक्ष्मी नमोस्तुते।।

-मंत्र जाप के बाद इस पूरी पूजन सामग्री को किसी नदी या तालाब में विसर्जित कर दें।

इस प्रयोग से आपको धन लाभ होने की संभावना बन सकती है।

समस्याओं के निदान के लिए उपाय
अक्षय तृतीया पर अपने सामने सात गोमती चक्र और महालक्ष्मी यंत्र को स्थापित करें और सात तेल के दीपक लगाएं। यह सब एक ही थाली में करें और यह थाली अपने सामने रखें और शंख माला से इस मंत्र की 51 माला जाप करें-

हुं हुं हुं श्रीं श्रीं ब्रं ब्रं फट्

अक्षय तृतीया के दिन यह उपाय करने से समस्याओं का निदान संभव है।