उज्जैन. वर्तमान समय में जिस तरह मंहगाई बढ़ रही है, इनकम उसकी अपेक्षा बहुत कम है। कुछ लोग ऐसे भी हैं जिनके आय का कोई निश्चित स्त्रोत नहीं होता। ऐसे में उनके लिए जीवन-यापन एक बड़ी समस्या बन जाती है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, यदि कुछ साधारण उपाय विधि-विधान पूर्वक किए जाएं तो इनकम का स्त्रोत स्थाई हो जाएगा, साथ ही उसमें बढ़ोत्तरी भी होगी।

उपाय-1
जब भी आप बैंक में पैसा जमा कराने या निकालने जाएं तो मन ही मन मां लक्ष्मी के मंत्र का जाप करते रहें। यदि लक्ष्मी मंत्र याद न हो तो विष्णु मंत्र का जाप भी किया जा सकता है। ऐसा करने से लेन-देन में आपको लाभ होगा, साथ ही बैंक में जमा राशि में भी बरकत होगी। नीचे कुछ मंत्र दिए गए हैं, इनमें से किसी भी मंत्र का जाप कर सकते हैं।

1. ऊं महालक्ष्म्यै नम: 
2. ऊं ह्रीं श्रीं महालक्ष्म्यै नम:
3. ऊं नमो भगवते वासुदेवाय नम:
4. ऊं विष्णवे नम:
5. ऊं नमो नारायण:

उपाय-2
शुक्ल पक्ष के शुक्रवार को यथाशक्ति (जितना संभव हो) चावल भगवान शिव के मंदिर ले जाएं। अब अपने दोनों हाथों में जितने चावल आ जाएं उतने शिवजी को अर्पण कर दें और भगवान शिव से धन प्राप्ति के लिए प्रार्थना करें। जितने चावल के दानें शिवजी को अर्पण किए जाते हैं, मान्यता है कि उसका उतने ही हजार गुना फल मिलता है। अब बचा हुआ चावल गरीबों में बांट दें। यह इनकम बढ़ाने का अचूक उपाय है।

उपाय-3
हर शुक्रवार को तुलसी के पौधे के सामने गाय के घी का दीपक जलाएं व नीचे दिए गए मंत्र का जाप करें। इस उपाय से आपके बैंक अकाउंट में धन सदैव बढ़ता रहेगा। यदि आप किसी ऑफिस में काम करते हैं या आपकी कोई दुकान है तो आप अपने वर्क टेबल पर मोती शंख भी रखें। यह उपाय करने से निश्चित ही आपका बैंक बैलेंस बढ़ने लगेगा।
मंत्र- ऊं श्रीं श्रीं श्रीं

उपाय-4
जब किसी महीने के कृष्ण पक्ष में भरणी नक्षत्र आए तो उस दिन पानी से भरे हुए 4 कलश लेकर किसी सुनसान जगह जाएं और वहां उन कलशों को रखकर चुपचाप चले आएं। फिर दूसरे दिन जाकर जो कलश खाली मिले, उसे घर ले आएं। शेष को वहीं छोड़ दें। खाली कलश को घर के एकांत कोने में रखकर रोज उसकी पूजा करें तो उस व्यक्ति पर लक्ष्मी प्रसन्न होकर उसी के घर में निवास करती हैं।