Asianet News HindiAsianet News Hindi

Maha Navmi 2022 Wishes: 4 अक्टूबर को महानवमी पर करें देवी सिद्धिदात्री की पूजा, जानें विधि, मंत्र, भोग और कथा

Maha Navmi 2022: वैसे तो साल में 4 नवरात्रि आती है, लेकिन इन सभी में शारदीय नवरात्रि का विशेष महत्व है। इस बार शारदीय नवरात्रि का पर्व 26 सितंबर से 4 अक्टूबर तक मनाया जाएगा। नवरात्रि की नवमी तिथि पर देवी सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है।
 

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA
Author
First Published Sep 21, 2022, 10:28 AM IST

उज्जैन.  धर्म ग्रंथों में शारदीय नवरात्रि का विशेष महत्व बताया गया है। इस बार ये पर्व 26 सितंबर से 4 अक्टूबर तक मनाया जाएगा। शारदीय नवरात्रि के अंतिम दिन यानी नवमी तिथि को महानवमी (Maha Navmi 2022) कहा जाता है। धर्म ग्रंथों में इस तिथि का विशेष महत्व बताया गया है। इस बार ये तिथि 4 अक्टूबर, मंगलवार को है। इस दिन यज्ञ, हवन आदि कार्य विशेष रूप से किए जाते हैं। इसी दिन नवरात्रि अनुष्ठान संपन्न होता है। आगे जानिए इस दिन देवी के किस रूप की पूजा की जाती है और इसकी पूजा विधि, मंत्र, आरती आदि…

महानवमी पर होती है देवी सिद्धिदात्री की पूजा (Goddess siddhidatri)
धर्म ग्रंथों के अनुसार, शारदीय नवरात्रि की नवमी तिथि पर देवी सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है। मां सिद्धिदात्री की चार भुजाएं हैं। इनकी दाहिनी ओर की पहली भुजा में गदा और दूसरी भुजा में चक्र है। बांई ओर की भुजाओं में कमल और शंख है। इनका आसन कमल का फूल है। देवता, असुर, गंधर्व, किन्नर और मनुष्य सभी इनकी पूजा करते हैं। अणिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व और वशित्व नामक आठ सिद्धियां हैं। ये सभी सिद्धियां मां सिद्धिदात्री की आराधना से प्राप्त की जा सकती है।
 
इस विधि से करें देवी सिद्धिदात्री की पूजा (Worship method of Goddess siddhidatri)

नवरात्रि की नवमी तिथि (4 अक्टबूर, मंगलवार) पर एक साफ स्थान पर देवी सिद्धिदात्री  की प्रतिमा या तस्वीर स्थापित करें। उसी स्थान पर श्रीगणेश, वरुण, नवग्रह, की स्थापना भी करें। इसके बाद व्रत, पूजन का संकल्प लें और वैदिक एवं सप्तशती मंत्रों द्वारा माता महागौरी सहित समस्त स्थापित देवताओं की पूजा करें। इसमें आवाहन, आसन, पाद्य, अर्ध्य, आचमन, स्नान, वस्त्र, सौभाग्य सूत्र, चंदन, रोली, हल्दी, सिंदूर, दुर्वा, बिल्वपत्र, आभूषण, पुष्प-हार, सुगंधित द्रव्य, धूप-दीप, नैवेद्य, फल, पान, दक्षिणा, आरती, प्रदक्षिणा, मंत्र पुष्पांजलि आदि करें।

ये है ध्यान मंत्र (Goddess siddhidatri Mantra)
सिद्धगंधर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि।
सेव्यमाना यदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायनी॥

ये भोग लगाएं
धर्म ग्रंथों के अनुसार, शारदीय नवरात्रि की नवमी तिथि पर देवी सिद्धिदात्री को अलग-अलग प्रकार के अनाजों का भोग लगाएं। बाद में इन अनाजों को किसी मंदिर के अन्नक्षेत्र में या जरूरतमंदों को दान कर दें। ऐसा करने से जीवन का हर सुख आपको मिल सकता है।

देवी सिद्धिदात्री की कथा (Goddess siddhidatri Katha)
शास्त्रों के अनुसार, देवी दुर्गा का सिद्धिदात्री स्वरूप सभी देवी-देवताओं के तेज से प्रकट हुआ है। भगवान शिव ने मां सिद्धिदात्री की कठोर तपस्या कर आठों सिद्धियों को प्राप्त किया था। साथ ही मां सिद्धिदात्री की कृपा से भगवान शिव का आधा शरीर देवी का हो गया था और वह अर्धनारीश्वर कहलाए। मां दुर्गा का यह अत्यंत शक्तिशाली स्वरूप है।

मां सिद्धिदात्री की आरती (Devi siddhidatri Aarti)
जय सिद्धिदात्री तू सिद्धि की दाता, तू भक्तों की रक्षक तू दासों की माता।
तेरा नाम लेते ही मिलती है सिद्धि, तेरे नाम से मन की होती है शुद्धि।
कठिन काम सिद्ध कराती हो तुम, हाथ सेवक के सर धरती हो तुम।
तेरी पूजा में न कोई विधि है, तू जगदंबे दाती तू सर्वसिद्धि है।
रविवार को तेरा सुमरिन करे जो, तेरी मूर्ति को ही मन में धरे जो।
तू सब काज उसके कराती हो पूरे, कभी काम उस के रहे न अधूरे।
तुम्हारी दया और तुम्हारी यह माया, रखे जिसके सर पैर मैया अपनी छाया।
सर्व सिद्धि दाती वो है भाग्यशाली, जो है तेरे दर का ही अम्बे सवाली।
हिमाचल है पर्वत जहां वास तेरा, महानंदा मंदिर में है वास तेरा।
मुझे आसरा है तुम्हारा ही माता, वंदना है सवाली तू जिसकी दाता...
 

महाष्टमी के मौके पर अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को इन ग्रीटिंग्स के माध्यम से दें शुभकामना संदेश...

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

आपके ऊपर सदा रहे मां दुर्गा का आशीर्वाद
आपको मिले भक्ति का प्रसाद
परिवार में बना रहे सम्मान और प्यार
खुशियों के आगमन के लिए रहें तैयार
महानवमी 2022 की हार्दिक शुभकामनाएं

 Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

आपके जीवन में खुशियों की बरसात हो
जीवन के सभी दुखों का नाश हो
आपके ऊपर सदैव मां दुर्गा का हाथ हो
Happy Durga Navmi 2022

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

लाल रंग से सजा है मां दुर्गा का दरबार
मां के तेज से पुलकित हुआ सारा संसार
महानवमी का त्योहार, आपके जीवन में लाए खुशियां अपार
Happy Durga Navmi 2022

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

हे मां दुर्गा तू मुझे शक्ति दे,
दिल में सदा तू भक्ति दे।
करूं पूजा तेरी मैं हर दम,
सभी बंधनों से तू मुझे मुक्ति दे।
महानवमी 2022 की शुभकामनाएं

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

या देवी सर्वभूतेषु बुद्धिरूपेण संस्थिता,
नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः।।
Happy Durga Navmi 2022

Mahanavami 2022 Mahanavami Greetings Messages Mahanavami 2022 Worship Method Goddess Siddhidatri When is Maha Navami 2022 MMA

नवरात्रि का ये जगमगाता पर्व आपके जीवन में खुशियों का सवेरा लाए
आप और आपका परिवार हमेशा खुशहाल रहे
महानवमी 2022 की हार्दिक शुभकामनाएं



ये भी पढ़ें-

Maha Ashtami 2022 Wishes: 3 अक्टूबर को महाष्टमी पर करें देवी महागौरी की पूजा, जानें विधि, मंत्र, भोग और कथा

Navratri 2022: अधिकांश देवी मंदिर पहाड़ों पर ही क्यों हैं? कारण जान आप भी कहेंगे ‘माइंड ब्लोइंग’

Navratri 2022: ये हैं देवी के 10 अचूक मंत्र, नवरात्रि में किसी 1 के जाप से भी दूर हो सकती है आपकी परेशानियां

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios