Asianet News Hindi

शनि जयंती: 22 मई को राशि अनुसार करें ये आसान उपाय, दूर हो सकती है हर तकलीफ

इस बार 22 मई, शुक्रवार को शनि जयंती है। इस दिन शनिदेव की पूजा का विशेष महत्व है।

Shani Jayanti: Do these easy steps according to the zodiac on May 22, all problems can be overcome KPI
Author
Ujjain, First Published May 16, 2020, 1:19 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उज्जैन. मान्यता है कि इस दिन शनिदेव की राशि अनुसार पूजा करने से सभी सुख प्राप्त होते हैं और ग्रहों के दोष समाप्त होते हैं। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, शनि जयंती के मौके पर राशि अनुसार ये उपाय करें-

मेष राशि- सुंदरकांड या हनुमान चालीसा का पाठ करें।
वृषभ राशि- शनि अष्टोत्तर शत नामावली का पाठ करें।
मिथुन राशि- शनिदेव को काली उड़द की दाल चढ़ाएं।
कर्क राशि- राजा दशरथ कृत शनि स्त्रोत का पाठ करें।
सिंह राशि- शनि जयंती के शुभ योग में हनुमानजी को चोला चढ़ाएं।
कन्या राशि- शनिदेव के बीज मंत्रों का जाप करें।
तुला राशि- शनिदेव का अभिषेक सरसो के तेल से करें।
वृश्चिक राशि- गरीबों को जूते-चप्पल या काले वस्त्रों का दान करें।
धनु राशि- शाम के समय पीपल के पेड़ के नीचे 11 दीपक लगाएं।
मकर राशि- शनिदेव के वैदिक मंत्रों का जाप करें।
कुंभ राशि- शनि जयंती पर शमी वृक्ष की पूजा करें।
मीन राशि- कुष्ठ रोगियों को भोजन, कपड़े व अन्य चीजों का दान करें।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios