Asianet News Hindi

UP-MP बॉर्डर पर रोके गए प्रवासी, भूखे-प्यासे कर रहे हंगामा, लगा 20KM लंबा जाम, पुलिस ने भांजी लाठियां

सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश का पालन कराने के लिए पुलिस ने रक्सा बॉर्डर पर बैरिकेडिंग कर रखी है। इससे हजारों की तादाद में प्रवासी मजदूरों के वाहनों के पहिए रक्सा बॉर्डर पर रुक गए हैं। प्रवासी मजदूर अपने प्राइवेट वाहनों से नहीं उतरने की जिद पर अड़ गए हैं। इसके कारण झांसी के रक्सा बॉर्डर 20 किलोमीटर लम्बा जाम लग गया है। वहीं, पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए लाठी चार्ज किया।

20KM long jam at UP-MP border, commotion of migrant laborers for not allowing entry of vehicles ASA
Author
Jhansi, First Published May 17, 2020, 8:40 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

झांसी (Uttar Pradesh) । यूपी और मध्य प्रदेश बॉर्डर सील कर दिया गया है। पुलिस ने रक्सा बॉर्डर से झांसी में वाहनों को प्रवेश नहीं करने दिया। इस कारण हजारों वाहनों की कतार लग गई है। वहीं, बीती रात से भूखे-प्यासे प्रवासी मजदूरों ने हंगामा करना शुरू कर दिया है। प्रवासी मजदूरों के बढ़ते हंगामे को देख बॉर्डर पर कई कम्पनी पीएसी बुला ली गई है। प्रवासी मजदूर रोडवेज की बसों में बैठने को तैयार नहीं हो रहे हैं। खबर है कि पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए प्रदर्शनकारियों पर लाठी भी चार्ज किया। बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि एक भी श्रमिक पैदल या किसी वाहन में छुपकर या निजी वाहन से यूपी में प्रवेश करेगा तो बॉर्डर के थाने के थानेदार इसके लिए जिम्मेदार होंगे।

यह है पूरा मामला
सीएम योगी आदित्यनाथ के आदेश का पालन कराने के लिए पुलिस ने रक्सा बॉर्डर पर बैरिकेडिंग कर रखी है। इससे हजारों की तादाद में प्रवासी मजदूरों के वाहनों के पहिए रक्सा बॉर्डर पर रुक गए हैं। प्रवासी मजदूर अपने प्राइवेट वाहनों से नहीं उतरने की जिद पर अड़ गए हैं। इसके कारण झांसी के रक्सा बॉर्डर 20 किलोमीटर लम्बा जाम लग गया है।

यह है मुख्य कारण
पुलिस निजी वाहनों को यूपी में प्रवेश नहीं दे रही है। इसके कारण मजदूरों ने जमकर हंगामा किया है। आईजी, कमिश्नर, डीएम और एसएसपी रक्सा बॉर्डर पर पहुंच गए हैं। खबर है कि पुलिस ने हल्का बल प्रयोग करते हुए प्रदर्शनकारियों पर लाठी भी चार्ज किया।

रोडवेज की बसों पर बैठने को तैयार नहीं मजदूर
बीती रात भूखे-प्यासे प्रवासी मजदूरों ने हंगामा करना शुरू कर दिया है। प्रवासी मजदूरों के बढ़ते हंगामे को देख बॉर्डर पर कई कम्पनी पीएसी बुला ली गई है। प्रवासी मजदूर रोडवेज की बसों में बैठने को तैयार नहीं हो रहे हैं
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios