Asianet News HindiAsianet News Hindi

गाजीपुर: शादी का झांसा देकर निजी कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर ने किया रेप, पुलिस ने किया गिरफ्तार

शादी का झांसा देकर रेप करने के मामले में फरार एक डिग्री कॉलेज के असिस्टेंट प्रोफेसर मदन यादव को पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। उसके बयान के आधार पर मुकदमे में अन्य पुलिसकर्मियों को पुलिस ने आरोपी बनाया है। 

A private college assistant professor raped on the pretext of marriage, police arrested
Author
Lucknow, First Published Dec 7, 2021, 8:36 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गाजीपुर: शादी करने का झांसा देकर रेप (Rape) करने के आरोप में सोमवार को यूपी के गाजीपुर (Gazipur) में फरार चल रहे एक असिस्टेंट प्रोफेसर ( Assistant Professor) को गिरफ्तार किया गया। इसके साथ ही असिस्टेंट प्रोफेसर पर रेप पीड़िता  को नाले में गिराकर मारने पीटने और पुलिसकर्मियों के साथ मिलकर गवाह को रेप के फर्जी मुकदमे में जेल भेजवाने का भी आरोप है।  

जेल से छूटकर वापस आने के बाद गवाह से लिया बदला
गाजीपुर की युवती ने असिस्टेंट प्रोफेसर मदन यादव के खिलाफ शादी के नाम पर झांसा देकर रेप करने का मुकदमा दर्ज कराया था। जमानत पर छूटने के बाद मदन यादव ने रेप पीड़िता और उसके गवाह के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज कराए। हंडिया में दर्ज एक गैंग रेप के मुकदमे में सेटिंग कराकर रेप पीड़िता के गवाह को जेल भेज दिया गया।

सच्चाई का पता चलने पर आरोपी पुलिसकर्मियों खिलाफ हुई कार्रवाई
खुलासा होने पर रेप पीड़िता ने जार्जटाउन थाने में महेंद्र यादव और हंडिया थाने के पूर्व इंस्पेक्टर ब्रजेश यादव के खिलाफ फर्जीवाड़ा करके गवाह को जेल भेजने का मुकदमा दर्ज कराया। इसके अलावा जानलेवा हमला और एससी-एसटी एक्ट के मुकदमे में मदन यादव वांछित था। सीओ कर्नलगंज अजीत सिंह चौहान ने बताया कि इन दोनों मुकदमों में फरार मदन यादव को थरवई के एक गांव से गिरफ्तार किया था। वहां पर अभिषेक सिंह और उसके शिक्षक भाई ने मदन यादव को शरण दी थी। हाल में शाइन सिटी प्रकरण में अभिषेक जमानत पर रिहा हुआ है। इसके साथ ही, पीड़िता के बयान के आधार पर मुकदमे में अन्य पुलिसकर्मियों को पुलिस ने आरोपी बनाया है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios