आगरा:संपत्ति विवाद में भाई ने बहन को गोली मारकर उतारा मौत के घाट, भाभी ने ऐसे बचाई जान, खूनी मंजर देख सहमे लोग

| Nov 27 2022, 04:44 PM IST

आगरा:संपत्ति विवाद में भाई ने बहन को गोली मारकर उतारा मौत के घाट, भाभी ने ऐसे बचाई जान, खूनी मंजर देख सहमे लोग

सार

यूपी के आगरा में संपत्ति के विवाद में एक भाई ने अपनी बहन और भाभी पर जानलेवा हमला कर दिया। इस दौरान बहन की मौत हो गई। वहीं भाभी जख्मी हो गईं है। बताया जा रहा है कि बहन और भाभी आरोपित युवक से संपत्ति में हिस्सा मांग रही थीं।

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा जिले से एक सनसनीखेज वारदात सामने आई है। जिले के थाना शाहगंज क्षेत्र के भोगीपुरा में बहन-भाई के बीच संपत्ति को लेकर विवाद हो गया। जिसके बाद भाई निक्कू चौधरी ने अपनी बहन पूनम की गोली मारकर हत्या कर दी। बताया जा रहा है कि इसके बाद आरोपी ने भाभी नीलू पर भी ताबड़तोड़ फायरिंग की तो वह अपनी जान बचाने के लिए घर से बाजार की तरफ भागीं। इस दौरान वह खून से लथपथ थीं। वहीं गोलियों की तड़तड़ाहट की आवाज से पूरे बाजार में दहशत का माहौल बन गया। दुकानों के शटर बंद होने लगे। करीब 30 मिनट तक अफरातफरी का माहौल बना रहा।

खर्चा मांगने को लेकर हुआ था विवाद
इसी दौरान मौका पाकर आरोपी निक्कू मौके से फरार हो गया। भोगीपुरा में निक्कू अपनी बहन पूनम के साथ रहता था। वहीं इस घटना में घायल हुई नीलू ने पुलिस को बताया कि उनके पति रुपेश की वर्ष 2006 में हत्या कर दी गई थी। जिसके बाद वह बुलंदशहर स्थित सलेमपुर में रह रही हैं। उन्होंने बताया कि वह एक शादी में आई हुई थीं और रिश्तेदार के घर पर रुकी थीं। नीलू ने बताया कि शनिवार को वह जोगीपाड़ा अपने ससुराल पहुंची थी। इस दौरान निक्कू से खर्च की रकम मांगने को लेकर झगड़ हो गया। निक्कू को अभद्रता करता देख उन्होंने दुकान पर ताला लगा दिया। तभी मौके पर पूनम भी पहुंच गई। यह देख आरोपी निक्कू ने हथियार निकाल लिया और दोनों को निशाना बनाते हुए फायरिंग कर दी।

Subscribe to get breaking news alerts

बहन की हुई मौके पर मौत
घायल नीलू ने बताया कि गोली की आवाज सुनकर आसपास के दुकानदार भी बाहर निकल आए। वहीं निक्कू के सिर पर खून सवार देख नीलू ने भागकर अपनी जान बचाई। उन्होंने कहा कि इस दौरान उनके हाथ से खून निकल रहा था। वहीं भीड़ जुटने के बाद आरोपी गोली नहीं चला सका। वहीं पूनम की मौके पर ही मौत हो गई। जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस पूछताछ में सामने आया कि सास-ससुर की मौत के बाद बहन पूनम भी भाई निक्कू से संपत्ति में हिस्सा मांग रही थी। नीलू ने पुलिस को बताया कि घर के बाहर मार्केट बना हुआ है। इसी के किराए से उनका खर्चा चलता है। जब तक ससुर जिंदा थे तो वह पोते की परवरिश के लिए सालाना डेढ़ से दो लाख रुपए देते थे।

आरोपी को तलाश रही पुलिस
वहीं उनकी मौत के बाद निक्कू ने नीतू को पैसा देना बंद कर दिया था। मार्केट और मकान से मिलने वाला किराया भी वह अपने पास ही रखता था। वहीं नीलू जब रिश्तेदार के घर शादी में पहुंची तो वह अपना खर्चा मांगने लगी। यही बात निक्कू को बुरी लग गई। वहीं शनिवार को नीलू ने दुकान में ताला डाला तो पूनम ने भाभी का साथ देते हुए मामले का वीडियो बना लिया। जिसके बाद निक्कू ने दोनों पर फायरिंग करना शुरू कर दिया। बताया गया है कि पूनम को दो गोलियां लगी थीं। वहीं नीलू के हाथ से गोली छूकर निकल गई। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। एसपी सिटी विकास कुमार ने बताया संपत्ति में हिस्से को लेकर भाई-बहन और भाभी के बीच विवाद चल रहा था। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

'अब वो मेरे लायक नहीं रही...' पति ने पहले तोड़ी कमर की हड्डी, फिर ससुराल पहुंचकर दिया तीन तलाक