Asianet News HindiAsianet News Hindi

आगरा में दो साल बाद राम बारात को शानदार बनाने के लिए शुरू हुई तैयारियां, जानिए क्या होगा खास

यूपी के जिले आगरा में 21 सिंतबर से शुरू होने वाली राम बारात की तैयारी को लेकर सुधीर बैंड ने रिहर्सल करना शुरू कर दिया है। रोजाना दो घंटे की प्रैक्टिस में नए-नए भजनों को बजाना सीखा जा रहा है। ऐतिहासिक राम बारात दो साल बाद सजने जा रही है।

Agra Preparations underway to make historic Ram procession spectacular Sudhir band rehearsing unique way
Author
First Published Sep 1, 2022, 9:45 AM IST

आगरा: उत्तर प्रदेश की ताजनगरी आगरा में ऐतिहासिक राम बारात अपने आप में ही बेहद खास है। यह अनोखी होने के साथ-साथ उत्तर भारत की सबसे मशहूर और प्राचीन राम बारात है। कोरोना के दो साल बाद एक बार फिर राम बारात सजने जा रही है। इस बार भव्य राम बारात का आयोजन 21 सितंबर से शुरू हो रही है। इस रामलीला में राम जी का विवाह यानी की राम बारात, जनक महल और सीता की विदाई शामिल होते हैं। राम बारात और जनक महल को सजाने के लिए दूर-दूर से कलाकार आते हैं। साथ ही इसमें करीब 20 बैंड शामिल होते हैं।

रोजाना दो घंटे की रिहर्सल कर रहे हैं म्यूजिशियन
शहर में 21 सितंबर से राम बारात शुरू हो रही है। जिसमें तरह-तरह की झांकियां निकाली जाती हैं। इसके अलावा कई बैंड भी चलते हैं और इन सभी की मेजबानी सुधीर बैंड करता है। खास बात तो यह है कि यह आगरा का सबसे पुराना बैंड माना जाता है। राम बारात में किसी भी तरह की कोई चूक न हो और आयोजन भव्य हो इसके लिए सुधीर बैंड के कलाकार, म्यूजिशियन लगभग एक महीना पहले से ही अपने म्यूजिक इंस्ट्रूमेंट के साथ रिहर्सल करते हैं और नए-नए भजन बजाना सीखते हैं। इस बार सुधीर बैंड के लगभग 80 लोग शहर के पालीवाल पार्क में हर रोज शाम को करीब दो घंटे प्रैक्टिस कर रहे हैं।

सुधीर बैंड समेत राम बारात है धार्मिक सद्भावना का प्रतीक 
इस ऐतिहासिक राम बारात में सभी धर्मों के लोग शामिल होते हैं। वहीं राम बारात जब निकाली जाती है तब मुस्लिम समाज के लोग जगह-जगह से राम बारात पर पुष्प वर्षा कर स्वागत भी करते हैं। इन सबके अलावा सुधीर बैंड में कई मुस्लिम म्यूजिशियन हैं, जो राज्य के अलग-अलग जिलों से आते हैं जैसे- मेरठ, बिजनौर, मुरादाबाद, रामपुर, बरेली आदि। इन लोगों का मानना है कि राम सबके हैं और राम बारात बेहद ऐतिहासिक है। इसमें शामिल होना उनके लिए किसी गौरव से कम नहीं है। राम बारात में सभी धर्म व सभी जाति के लोग बड़े उत्साह के साथ इसमें बढ़-चढ़कर हिस्सा लेते हैं।

पार्क में बैठकर कर रहे हैं नए गानों की तैयारी
राम बारात की शुरुआत से पहले सबसे पहले गणेश वंदना शुरू होती है। 21 सितंबर को जिस दिन राम बारात को निकला जाएगा तब सुधीर बैंड के सभी म्यूजिशियन गणेश वंदना से शुरुआत करेंगे। उससे पहले बैंड 13 सितंबर को रावण की दुहाई बजाएगा और उसके बाद सीधे 21 सितंबर को राम बारात में शामिल होंगे। तैयारी करने के लिए सुधीर बैंड के लोग हर रोज सभी इंस्ट्रूमेंट के साथ सफाई देख-रेख और नए गानों के लिए पालीवाल पार्क में इकट्ठा हो रहे हैं। सभी की रिहर्सल जोरो-शोरो से चल रही है।

क्लासरूम में स्कूली गर्ल्स की कैट फाइट, बाल पकड़ लिए तो छोड़े नहीं.. एकदूसरे को मेज पटका और खूब गालियां भी दीं

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios