Asianet News HindiAsianet News Hindi

AIMIM सदस्य सबाउद्दीन का ISIS कनेक्शन, जानें कैसे RSS के लोगों को कर रहा था टारगेट

यूपी ATS टीम ने आजमगढ़ से ISIS के एक आतंकी सबाउद्दीन आजमी को गिरफ्तार किया गया है। आतंक और जेहाद के लिए मुस्लिम युवकों का ब्रेनवॉश करने के लिए बनाए गए टेलीग्राम चैनल AL-SAQR MEDIA से भी उसके जुड़े होने के सबूत मिले हैं।
 

AIMIM member Sabauddin ISIS connection UP ATS arrested know how RSS targeting people
Author
Azamgarh, First Published Aug 9, 2022, 6:50 PM IST

आजमगढ़: स्वतंत्रता दिवस के कुछ दिन पहले उत्तर प्रदेश की ATS टीम को एक बड़ी सफलता मिली है। यूपी ATS टीम ने सबाउद्दीन आजमी नाम के एक आतंकी को गिरफ्तार किया है। सबाउद्दीन आजमी मुबारकपुर के अमिलो का रहने वाला है और वह ISIS के रिक्रूटर से सीधे संपर्क में भी था। इसके ठीक तीन दिन पहले UP ATS ने मुबारकपुर में भी छापेमारी कर तीन लोगों को हिरासत में लिया था। 

AIMIM सदस्य सबाउद्दीन का ISIS कनेक्शन
UP ATS टीम को काफी दिनों से एक सहयोगी एजेंसी से सूचना मिल रही थी कि अमिलो मुबारकपुर में एक व्यक्ति ISIS विचारधारा से प्रभावित है। सबाउद्दीन आजमी अपने साथियों के द्वारा वॉट्सऐप और सोशल-मीडिया एप से जिहादी विचारधारा का प्रचार-प्रसार कर रहा था। साथ ही वह अन्य लोगों को भी ISIS से जुड़ने के लिए प्रेरित कर रहा है। ATS के अधिकारियों के अनुसार पूछताछ में और मोबाइल डेटा खंगालने पर कई राज सामने आए हैं। वहीं मुस्लिम युवकों का ब्रेनवॉश करने और आतंकवादी संगठन से जुड़े होने के भी सबूत मिले हैं।

वर्तमान में सबाउद्दीन AIMIM का है सदस्य
इसी के साथ ही सबाउद्दीन इस समय असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM का सदस्य है। ATS के अधिकारियों के मुताबिक सबाउद्दीन बिलाल नाम के व्यक्ति से पेसबुक पर जुड़ने के बाद से जिहाद और कश्मीर में मुजाहिदों पर हो रही कार्यवाही के बारे में बात किया करता था। जिसके बाद बिलाल ने सबाउद्दीन को मूसा उर्फ खत्ताब कश्मीरी का नंबर दिया और कश्मीर में मुजाहिदों पर हो रहे जुल्म का बदला लेने की योजना के बारे में जानकारी के लिए मूसा ने ISIS के अबू बकर अल-शामी का नंबर दिया, जो वर्तमान में सीरिया में है। आरोपी के पास से तमंचा, शोल्डिंग आयरन, मोबाइल और चाइनीज कील बरामद हुई है।

फेक अकाउंट बनाकर प्लान कर रहा था टारगेट
सबाउद्दीन ने यूपी ATS को बताया कि उसने अबू बकर अल शामी के सम्पर्क में आने के बाद से मुजाहिदों पर हो रही कार्यवाही का बदला लेने के लिए ISIS की तरह भारत में भी एक इस्लामिक संगठन बनाने और IED बनाने के संबंध में जानकारी दी। साथ ही उसने बताया कि शामी ने उसे IED बनाने का तरीका और आवश्यक सामग्री के बारे में भी जानकारी दी। वहीं अबू उमर ने सोशल मीडिया ऐप्स के जरिए हैंड ग्रेनेड, बम व IED बनाने की ट्रेनिंग दी जाने लगी और मुजाहिदिन संगठन तैयार कर भारत में इस्लामिक स्टेट स्थापित करने तथा भारत में इस्लामी हुकूमत एवं शरिया कानून लागू कराने की योजना पर काम करने लगे। सबाउद्दीन RSS के नाम से फेक मेल-आईडी और फेसबुक अकाउंट बना कर टारगेट करने की योजना पर काम कर रहा था। 

आजमगढ़: जहरीली शराब कांड का मास्टर माइंड निकला सपा विधायक बाहुबली रमाकांत यादव, साथ ले जा रही पुलिस

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios