Asianet News HindiAsianet News Hindi

UP: मुरादाबाद में राम, लक्ष्मण और सीता ने घंटों धरना दिया, कारण जानकर रह जाएंगे हैरान

मुरादाबाद (Moradabad) में बिजली विभाग (Electricity Department) और नगर निगम (Municipal Council) धार्मिक कार्यक्रमों में सहयोग नहीं कर रहा है। यहां 50 साल पुरानी रामलीला मंचन के कार्यक्रम में बिजली का अस्थाई कनेक्शन नहीं दिया गया, जिससे रामलीला अंधेरे में हो रही है। सरकारी विभागों के अफसरों से नाराज रामलीला के पात्रों ने मोमबत्ती जलाकर प्रदर्शन किया।

Artists Demonstrated by lighting candles for not providing electricity connection to Ramlila staging program in Moradabad
Author
Moradabad, First Published Oct 12, 2021, 3:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मुरादाबाद। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुरादाबाद (Moradabad) में बिजली विभाग (Electricity Department) से नाराज होकर रामलीला मंच पर भगवान राम (Lord Ram), लक्ष्मण (Laxman) और सीता (Seeta) के पात्रों ने हाथों में मोमबत्ती लेकर धरना दिया। उनके साथ दर्शक और कलाकार भी धरने पर बैठे रहे। मामला थाना नागफनी इलाके के पुराना दसवां घाट का है। यहां 50 साल से रामलीला का मंचन हो रहा है, लेकिन इस बार अलग ही नजारा दिखाई दिया। स्टेज पर मंचन नहीं हो रहा था, बल्कि सभी मुख्य पात्र मोमबत्ती जलाकर प्रदर्शन करते नजर आए। पूरा पंडाल खाली पड़ा था। कारण था- रामलीला मंचन के लिए बिजली नहीं मिलना। इसलिए कमेटी और कलाकारों ने मंच पर ही धरने देकर विरोध जताया।

रामलीला मंच के अध्यक्ष यथार्थ किशोर ने बताया कि प्राचीन श्रीरामलीला पर संकट खड़ा हो गया है। हमें बिजली मीटर नहीं दिया जा रहा है। मंचन में 2019 से समस्या आ रही है। पहले हम एडीएम सिटी को एक प्रार्थना पत्र देते थे। उनके आदेश पर नगर निगम से सुविधा मिलती थी। इस बार सिर्फ सफाई की व्यवस्था चल रही है। 4 अक्टूबर से रामलीला शुरू हो गई थी। तब से आश्वासन ही दिया जा रहा है। जनरेटर से अपने खर्च पर रामलीला कर रहे हैं। बाद में पुलिस भी रामलीला मंच स्थल पर पहुंची, लेकिन बातचीत कर कुछ देर बाद वापस चली गई। अधिशासी अभियंता ने बताया कि अस्थाई बिजली कनेक्शन के लिए किसी ने आवेदन नहीं किया है।

रामलीला के मुस्लिम कलाकार को अल्टीमेटम, दबंग मुस्लिम ने कहा- राम का किरदार निभाया तो अच्छा नहीं होगा

तेल में खर्च कर देंगे तो टेंट वालों को क्या पैसे देंगे
रामलीला कमेटी का कहना है कि दानदाताओं का सारा पैसा तेल में ही खर्च कर देंगे तो लाइट और टेंट वालों को पैसा कहां से देंगे। विद्युत सप्लाई नहीं मिलेगी तो हम मंच पर धरने पर बैठे रहेंगे। मुख्यमंत्री से निवेदन है कि हमारी समस्या को देखते हुए मीटर प्रदान करें। अधिकारियों से कई बार बात कर चुके हैं, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई है।

लाइट नहीं है, इसलिए मोमबत्ती लेकर प्रदर्शन: राम
राम का पात्र निभाने वाले कलाकार लोकेश ने कहा- ‘मैं श्रीराम जी का मंचन कर रहा हूं। कमेटी वाले बहुत परेशान हो रहे हैं, इन्हें लाइट की सुविधा नहीं मिली है। हर साल लाइट की सुविधा मिलती है। नगर निगम वाले सहयोग नहीं दे रहे हैं। इसलिए हम सब लोग धरने पर बैठ गए हैं। लाइट नहीं है इसलिए मोमबत्ती लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं।

रामलीला में अंगद बने बीजेपी सांसद मनोज तिवारी, लोग बोले ये कैसा अभिनय, साफ हिन्दी भी नहीं बोल पाते

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios