Asianet News HindiAsianet News Hindi

कच्ची दीवार गिरने से बुआ और भतीजे का हुआ ऐसा हाल, बाराबंकी में दर्दनाक हादसे में मलबे के नीचे आए दोनों

बाराबंकी में दर्दनाक हादसा होने से बुआ और भतीजे की मौके पर ही मौत हो गई। मिट्टी की दीवार पर रखे छप्पर के नीचे बुआ के साथ सो रहा चार साल का मासूम ने जिंदगी को अलविदा कह दिया है। दोनों की मौत से घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। 

Barabanki Such condition aunt and nephew due fall raw wall both came under rubble painful accident 
Author
First Published Sep 19, 2022, 12:49 PM IST

बाराबंकी: उत्तर प्रदेश के जिले बाराबंकी में दर्दनाक हादसे से बुआ और भतीजे की मौके पर ही मौत हो गई। ऐसा बताया जा रहा है कि यह हादसा कच्ची दीवार के गिरने से हुआ है। इसके मलबे में दोनों दब गए और मौके पर ही मौत हो गई। चीख-पुकार सुनकर आसपास के लोगों ने मलबे को हटाया और दोनों को बाहर निकाला। आनन-फानन में अस्पताल लेकर पहुंचे पर चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। इस हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। दोनों की मौत से घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल है। 

मिट्टी के मलबे से दोनों को निकाला बाहर
जानकारी के अनुसार यह हादसा शहर के घुंघटेर थाना क्षेत्र के ग्राम पिपरिहा का है। यहां कच्ची दीवार गिरने से 6 वर्षीय मासूम समेत दो की दबकर मौत हो गई। इस गांव के मजरे घुंघटेर निवासी प्रवेश का पुत्र विशांत (4) पुत्र अपनी बुआ चांदनी (19) पुत्री खगेश्वर के साथ घर में कच्ची दीवाल पर रखे छप्पर के नीचे सो रहे थे। अचानक से सोमवार की सुबह तीन बजे छप्पर व कच्ची दीवार भरभरा कर गिर गई और दोनों मलबे के नीचे दब गए। शोर सुनकर ग्रामीण व परिजनों ने मिट्टी के मलबे को आनन-फानन में हटाया। परिजन तुरंत गंभीर रूप से घायल दोनों को उपचार के लिए सीएचसी लेकर पहुंचे लेकिन चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

आपदा के तहत प्रदान की जाएगी सहायता
सूचना पर पहुंची पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं तहसीलदार राहुल सिंह ने बताया कि मौके पर राजस्व टीम को भेजा गया है और आपदा के तहत पीड़ित परिवार को सहायता प्रदान की जाएगी। आपको बता दें कि सोमवार की सुबह राज्य के देवरिया में भी दर्दनाक हादसा हुआ। जहां पति-पत्नी समेत बेटी की मौके पर ही मौत हो गई थी। यहां हादसा जर्जर मकान के गिरने से हुआ था क्योंकि उसकी स्थिति बिल्कुल ठीक नहीं थी। घटना के बाद काफी संख्या में मौके पर लोग पहुंचे तो वहीं पुलिसकर्मियों को सूचित किया गया। प्रशासन और पुलिस राहत बचाव कार्य में जुटे हैं। 

पीलीभीत में सामूहिक दुष्कर्म के बाद डीजल डालकर जलाई गई युवती की मौत, 12 दिन संघर्ष के बाद लखनऊ में तोड़ा दम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios