Asianet News HindiAsianet News Hindi

कोरोना@काम की खबरःमोबाइल में कोरोना वायरस के नाम पर आ रहा है मैसेज तो हो जाइए सावधान


आनलाइन ठगी करने वाले कोरोना वायरस से जुड़े मैसेज भेज रहे हैं। लोगों को जागरुक करने के नाम पर अपना शिकार बना रहे हैं। इस तरह के कई केस मेरठ में सामने आए हैं, जिसके बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

Be aware that the message coming in the name of Corona virus in mobile can be a victim of online fraud asa
Author
Meerut, First Published Mar 29, 2020, 12:52 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

मेरठ (Uttar Pradesh) । यदि आपके भी मोबाइल पर कोरोना वायरस से जुड़ा मैसेज और लिंक आ रहा है तो सावधान हो जाइए, क्योंकि ये मैसेज आनलाइन ठगी का शिकार करने वालों की ओर से भी भेजा जाकता है। जी हां इस समय जहां पूरी दुनिया कोरोना वायरस का उपचार ढूंढने में जुटी है वहीं, साइबर अपराधी ऐसे वक्त में ठगी का ताना-बाना बुनने में लगे हैं। वो झांसा दे रहे हैं कि डब्ल्यूएचओ कोरोना को लेकर जागरूकता अभियान चला रहा है, जिसके लिए आपको चुना गया है। इसके एवज आपको प्रत्येक माह यह इनाम दिया जाएगा। इसके बाद मोबाइल पर आया ओटीपी पता करते हैं और खाते से रकम साफ हो जाती है।

इस तरह के मामले आए सामने
सरधना निवासी महेश ने ऑनलाइन शिकायत किया है। जिसमें कहा है कि उनके मोबाइल पर एक एसएमएस आया था। इसमें कहा गया कि कोविड-19 की वजह से आप घर में हैं तो समय पास करने के लिए हम आपको फ्री आइफोन 11 दे रहे हैं। एसएमएस के साथ एक लिंक भी दिया है। लिंक पर क्लिक करते ही खाते से 12 हजार रुपये की कटौती हो गई। इसी तरह परतापुर के रणदीप के मोबाइल पर एसएमएस आया कि हमें पैसे भेज दो वरना कोरोना वायरस भेज देंगे। इसी तरह की अन्य ऑनलाइन शिकायतें भी पुलिस के पास पहुंच रही है।

ऐसे करें बचाव
ऐसी किसी भी साइट पर जल्दबाजी में क्लिक न करें, जिसका नाम कोरोना से संबंधित हो। यदि कोरोना को लेकर कोई भी जानकारी चाहिए तो सिर्फ अधिकृत वेबसाइट जैसे डब्ल्यूएचओ या सरकारी वेबसाइट्स पर ही जाएं। यह भी समझना चाहिए कि डब्ल्यूएचओ या बड़ी संस्थाएं कभी भी जीमेल या याहू मेल की आइडी का प्रयोग नहीं करती हैं।
 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios