Asianet News Hindi

चिन्मयानंद केस खुलासा: छात्रा के दोस्त ने गायब किए थे सबूत, मामी ने ऐसे की थी मिटाने की कोशिश

पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मायानंद पर लगे यौन शोषण और छात्रा पर लगे रंगदारी मामले की जांच कर रही एसआईटी ने अपनी चार्जशीट तैयार कर ली है। जिसे इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश किया जाएगा।

chinmayanand case disclosed in sit charge sheet
Author
Shahjahanpur, First Published Nov 5, 2019, 5:58 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

शाहजहांपुर (Uttar Pradesh). पूर्व केंद्रीय गृह राज्यमंत्री स्वामी चिन्मायानंद पर लगे यौन शोषण और छात्रा पर लगे रंगदारी मामले की जांच कर रही एसआईटी ने अपनी चार्जशीट तैयार कर ली है। जिसे इलाहाबाद हाईकोर्ट में पेश किया जाएगा। 

छात्रा के दोस्त ने हटाए थे सबूत 
एसआईटी चीफ नवीन अरोड़ा ने बताया, पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उसकी गैरमौजूदगी में हॉस्टल से सबूत गायब कर दिए गए। जबकि जांच में पता चला कि छात्रा को जब हॉस्टल का कमरा दिया जाता है तब अपना ताला खुद लगाती थी। दिल्ली जाने से पहले पीड़िता के दोस्त संजय ने कमरे का सारा सामाना राहुल के घर एक बक्से में बंद कर रख दिया था। जब सभी की गिरफ्तारी शुरू हुई तब संजय की मामी ने घबराकर पूरा सामान नाले में बहा दिया। नाले की सफाई कराकर कई सामाना बरामद कर लिया गया है। हालांकि, वो चश्मा नहीं मिला जिससे मालिश का पूरा वीडियो शूट किया गया था। 

सही पाए गए वायरल वीडियो
नवीन अरोड़ा ने बताया, मालिश वाला वीडियो और रंगदारी मांगने का वायरल वीडियो के अलावा जो भी वीडियो वायरल हुए थे, वह और मोबाइल जांच में भेजे गए थे। उनकी मिरर फोटो निकलवाई गई, जो जांच में बिल्कुल सही पाए गए। इसके अलावा मोबाइल लोकेशन सीडीआर गेस्ट हाउस आदि की सीसीटीवी फुटेज भी जांच में सही पाए गए। चार्जशीट में 2 अन्य लोगों के नाम भी शामिल किए गए हैं। इनमें एक बीजेपी नेता है। उसने भी चिन्मयानंद से सवा करोड़ रुपए की रंगदारी मांगी थी। उसके घर से छात्रा के अश्लील वीडियो भी मिले हैं। इस तरह रंगदारी मांगने में अब आरोपियों की संख्या अब 6 हो गई है। वहीं, चिन्मयानंद के अलावा मामले में पीड़िता, संजय, विक्रम, सचिन पहले से ही जेल में बंद हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios