Asianet News HindiAsianet News Hindi

न्यायिक हिरासत में जेल भेजे गए उन्नाव मामले के पांचो आरोपी,पांच थानों की फोर्स रही तैनात

उन्नाव गैंगरेप विक्टिम को जलाकर मारने के मामले में गिरफ्तार किए गए पांचो आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया

cm office asked for report in unnao gangrape victim burnt alive case
Author
Unnao, First Published Dec 7, 2019, 11:02 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उन्नाव(Uttar Pradesh ). उन्नाव गैंगरेप विक्टिम को जलाकर मारने के मामले में गिरफ्तार किए गए पांचो आरोपियों को पुलिस ने न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। उधर सीएम योगी ने जिला प्रशासन से मामले में रिपोर्ट तलब की है। मामले की संजीदगी को देखते हुए जिला प्रशासन पूरी रात एक्टिव रहा। पूरी रात पुलिस की गहमागहमी बनी रही। 

बता दें कि 5 दिसंबर को तड़के 4 बजे उन्नाव गैंगरेप पीड़िता मामले के पैरवी करने के लिए अकेले पैदल ही बैसवारा रेलवे हॉल्ट स्टेशन जा रही थी। वहां से उसे रायबरेली जाना था। घर से एक किमी दूर आरोपी शिवम व शुभम समेत पांच लोगों ने उसे घेर लिया। पांचो आरोपियों ने उसे पकड़ कर आग के हवाले कर दिया। बुरी तरह आग की लपटों में घिरी होने के बावजूद युवती दरिंदों से जान बचाने के लिए एक किलोमीटर तक दौड़ती चली गई। वहां पान की गुमटी के पास खड़े कुछ लोगों ने शोर मचाते हुए युवती पर कपड़ा डालकर आग बुझाई। इसके बाद पीड़िता ने एक व्यक्ति के मोबाइल से सुबह 4:46 बजे 112 नंबर पर पुलिस को खुद सूचना दी। जिसके बाद उसे अस्पताल जहां से हालत गंभीर देखते हुए उसे लखनऊ रिफर कर दिया गया। लखनऊ में भी उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ जिसके बाद उसे दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में भर्ती कराया गया। वहां 40 घंटे तक मौत से संघर्ष करने के बाद उसकी मौत हो गई। 

पांच थानों की पुलिस रही तैनात 
गैंगरेप विक्टिम को जलाने के मामले में पुलिस ने आनन-फानन में पांचो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर बिहार थाने में रखा। लोगों के आक्रोश को देखते हुए पुलिस ने अफसरों ने बिहार थाने में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया। वहां पांच थानों की फोर्स ने डेरा डाले रखा। जिसके बाद कड़ी सुरक्षा में आरोपियों को न्यायालय भेजा गया। 

14 दिन की हिरासत में भेजा गया जेल 
पुलिस ने कड़ी सुरक्षा के बीच पांचो आरोपियों को न्यायालय में पेश किया। जहां से उन्हें न्यायालय के दिन की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। लोगों के गुस्से को देखते हुए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच आरोपियों को जेल भेजा गया। 

सीएम कार्यालय से तलब की गयी रिपोर्ट 
मामले में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रिपोर्ट तलब की है। मुख्यमंत्री कार्यालय से उन्नाव जिला प्रशासन से पूरे मामले में रिपोर्ट मांगी गई है। रिपोर्ट में रेप के बाद से अब तक हुई कार्रवाई की डिटेल भी माँगी गई है। 

फॉरेंसिक टीम ने खंगाली घटनास्थल की हकीकत 
लखनऊ व कानपुर से आई फॉरेंसिक टीम ने घंटो तक घटनास्थल की गहन पड़ताल की। घटना स्थल से नमूने एकत्र करने के बाद टीम ने उसे विधि विज्ञान प्रयोशाला लखनऊ भेज दिया। टीम के एक सदस्य ने बताया कि ज्वलनशील पदार्थ क्या है ये प्रयोशाला की जांच के बाद कन्फर्म होगा। 

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios