Asianet News HindiAsianet News Hindi

हरदोई के अमन की जगह ताबूत से निकला बिहार के वृद्ध का शव, लखनऊ एयरपोर्ट पर हो गई बड़ी गलती

लखनऊ एयरपोर्ट पर हुई गलती के बाद हरदोई के अमन के शव की जगह बिहार के वृद्ध का शव उसके घर पहुंच गया। मामले का पता लगने के बाद परिजन फिर से एयरपोर्ट पहुंचे और वहां से सही शव को प्राप्त किया। 

dead body of Bihar old man came out of the coffin instead of Hardoi Aman big mistake made at Lucknow airport
Author
First Published Sep 11, 2022, 11:53 AM IST

हरदोई: यूपी के हरदोई के एक युवक की हादसे में मौत हो गई। हवाई जहाज से शव लेकर आए स्वजन को एयरपोर्ट पर एक वृद्ध का शव दे दिया गया। जब परिजनों ने गांव जाकर ताबूत खोला तो वह हैरान रह गए। ताबूत पर लिखे मोबाइल पर संपर्क किया गया तो पता चला कि जिस वृद्ध का शव है वह बिहार का रहने वाला है। इस बीच घरवालों फिर से शव को लेकर एयरपोर्ट पहुंचे तो उन्हें युवक का शव मिला।

ट्रेन की चपेट में आते ही अमन की मुंबई में हुई मौत
आपको बता दें कि हरपालपुर क्षेत्र के ग्राम करनपुर मतनी के अमन मुंबई में नौकरी करने के लिए बुधवार को गए थे। परिजनों ने बताया कि गुरुवार को अमन मुंबई पहुंचा और बोरीवली स्टेशन पार करते हुए ट्रेन की चपेट में आ गया। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। उसका भाई आमिर और अन्य लोग भी  वहीं पर थे और हवाई जहाज से शव लेकर वह लखनऊ में रवाना हो गए। उनके भाई शबील आदि ने जानकारी दी कि लखनऊ एयरपोर्ट के अधिकारियों ने शनिवार को उन्हें सुबह ताबूत उन्हें सौंपा। इसके बाद वह शव को लेकर गांव पहुंचे। जैसे ही ताबूत खोला गया तो उसे देखकर सभी चौंक गए। ताबूत खोला गया तो शव किसी बुजुर्ग का निकला। 

शव भेजने वाले एजेंट की गलती आ रही सामने
शबील का कहना है कि ताबूत को ध्यान से देखा गया तो उसके ऊपर शकील अंसारी, अकबरपुर, पटना बिहार लिखा हुआ था। इसी के साथ जो मोबाइल नंबर लिखा था जब उस पर संपर्क किया गया तो जानकारी लगी कि वह लोग भी लखनऊ आ रहे हैं। इसके बाद मामले को लेकर सभी लोग लखनऊ एयरपोर्ट पहुंचे। वहां जानकारी हुई कि अमन का शव दूसरी फ्लाइट से आया था और वह एयरपोर्ट पर रखा है। बाद में उस शव को परिजनों को दिया गया। वहीं बुजुर्ग का शव एयरपोर्ट के अधिकारियों को सुपुर्द कर दिया गया। इसके बाद शनिवार की शाम को वह लोग अमन का सव लेकर घर पहुंचे और अंतिम संस्कार किया गया। एयरपोर्ट प्रवक्ता की ओर से जानकारी दी गई कि दोनों शव भेजने वाले एजेंट ने ताबूत पर गलत जानकारी भरी थी। इसी के चलते यह पूरा मामला सामने आया। वहीं देर शाम दोनों ही शव परिजनों को सौंप दिए गए। 

अमरोहा में बहन और पति ही बन गए महिला की जान के दुश्मन, जानिए क्यों रच डाला रास्ते से हटाने का मास्टर प्लान

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios