Asianet News HindiAsianet News Hindi

दूसरी लड़की से प्यार की वजह से SSB जवान ने मंगेतर को उतारा मौत के घाट, वारदात को अंजाम देने के बनाई ऐसी योजना

यूपी के जिले इटावा में एक एसएसबी जवान ने अपनी ही मंगेतर की हत्या कर दी। उसने ऐसा इसलिए किया क्योंकि वह दूसरी लड़की से प्यार करता है। इस बात की जानकारी उसने युवती समेत उसके परिजन को भी बताई पर वह राजी नहीं हुए थे।

Etawah love another girl SSB jawan killed fiancee such plan was made to carry out the crime
Author
First Published Sep 14, 2022, 11:41 AM IST

इटावा: उत्तर प्रदेश के जिले इटावा में एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है। एसएसबी जवान ने तो सारी हदें ही पार कर दी। अपनी मंगेतर को मारने के लिए पहले उसको घर से बाहर बुलाया फिर उसके साथ जमकर मारपीट की। इतना ही नहीं युवती के सिर पर स्टील की बोतल मार दी जिससे वह तुरंत बेहोश होकर जमीन में गिर गई। आरोपी जवान ने लड़की का गला इतनी तेज दबाया कि गले की हड्डे ही टूट गई और उसकी वहीं मौके पर ही मौत हो गई। उसके बाद वह शव को गड्ढे में छुपाकर घर आकर सो गया था।

युवती के परिजन ने गुमशुदगी की रिपोर्ट कराई दर्ज 
इधर, सोमवार देर शाम पुलिस को लॉयन सफारी के पास एक लावारिस स्कूटी मिली थी। पुलिस ने आसपास लोगों से पूछताछ की लेकिन स्कूटी का मालिक का पता नहीं चल पाया। इसके बाद पुलिस स्कूटी को लेकर थाने आ गई और लावारिस में दाखिल कर दिया। इसी दौरान अर्चना के घरवाले गुमशुदगी दर्ज कराने के लिए थाने आ गए। पुलिसवालों ने जब स्कूटी का नंबर बताया तो वह अर्चना की ही निकली। पुलिस एक्शन में आकर युवती के नंबर की सीडीआर निकलवाने के लिए भेज दी। दूसरी ओर पुलिस युवती के सभी दोस्तों से पूछताछ करने लगी पर कोई सुराग नहीं मिला।

आरोपी ने पुलिस के सामने स्वीकार की ये बात
मृतक युवती की मां मंजू देवी ने पुलिस को बताया कि अर्चना के मंगेतर नीलेश ने फोन कर बेटी को बुलाया था। इस पर पुलिस ने नीलेश का भी नंबर लेकर दोनों नंबर की लोकेशन और सीडीआर निकलवाई। इसके साथ ही उसको थाने में बुलवाया गया। पुलिस ने थाने में जब सख्ती से पूछताछ की तो नीलेश ने बताया कि वह किसी और लड़की से प्यार करता है और अर्चना से शादी नहीं करना चाहता है। वह आगे कहता है कि यह बात कई बार अर्चना और उसके परिवार के लोगों से कही थी लेकिन वह लोग शादी न करने पर मुकदमा करने की धमकी देते थे।

लॉयन सफारी के जंगल के पास शव हुआ बरामद
एक बार फिर सोमवार को अर्चना से मिलकर शादी न करने के लिए कहा था लेकिन वह नहीं मानी। इसी वजह से वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर रात करीब डेढ़ बजे शव को लॉयन सफारी के पास के जंगल से बरामद कर लिया। एक झटके में खुशियां मातम में बदल गई। परिवार के लोग जहां घर में शादी की तैयारियां कर रहे थे, वहां एक ही दिन में मातम छा गया। अर्चना के पिता लल्ला सिंह ने बताया कि छह जुलाई को बेटी की मंगली नीलेश से हुई और दोनों की शादी 16 नवंबर को है। घर में पहली शादी होने की वजह से सभी बहुत खुश थे।

आरोपी ने युवती के मोबाइल को यमुना नदी में फेंका
उन्होंने आगे बताया कि दहेज में साढ़े सात लाख रुपए दे दिए थे और नौ लाख रुपए 20 सितंबर से पहले देने की बात कही थी। आरोपी नीलेश ने अर्चना की हत्या करने के बाद उसका फोन स्विच ऑफ कर दिया था। इसके बाद वह काफी देर तक फोन को अपने पास रखकर घंटों तक इधर-उधर घूमता रहा। जब आरोपी जवान को कुछ समझ नहीं आया तो उसने यमुना नदी में फेंक दिया। मृतक युवती के परिजनों ने बताया कि वह घर से सबसे बड़ी थी और बीएड कर चुकी थी। इसके साथ ही साथ वह टीईटी की तैयारी में लगी थी। बेटी की मौत पर मां, भाई-बहन समेत पिता का रो-रोकर बुरा हाल है।

नोएडा: टाइल्स लगवाने के बाद महीनों से मर्सिडीज मालिक कर रहा था टालमटोल, गुस्से में आकर आरोपी ने किया ऐसा काम

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios