Asianet News HindiAsianet News Hindi

रेनू शर्मा की मौत का मामला गरमाया, दूसरे ज‍िले के डॉक्‍टर से पोस्टमार्टम कराने की मांग

अलीगढ़ में जहरीली शराब कांड में हुई 109 लोगों की मौत की जिम्मेदार और शराब माफिया पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा की जे एन मेडिकल कॉलेज में हुई मौत के बाद परिजनों ने अलीगढ़ के डॉक्टर से पोस्टमार्टम कराने से मना कर दिया है। गैर जनपद के डॉक्टर बुलाए जाएं ताकि सही जांच हो। जिले के उच्च अधिकारियों को पत्र लिखकर गैर जनपद से डॉक्टर बुलाए जाने की मांग की गई है।

Family demand for Renu Sharma s post mortem from the doctor of another district
Author
Lucknow, First Published Dec 5, 2021, 10:56 AM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जनपद अलीगढ़ में जहरीली शराब कांड का मामले लगातार बढ़ता जा रहा है। अलीगढ़ (aligarh) में जहरीली शराब कांड के मास्टरमाइंड (Master mind)  शराब माफिया ऋषि शर्मा और 109 लोगों की मौत की जिम्मेदार और जहरीली शराब कांड में शामिल माफिया की पत्नी पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा की शुक्रवार को हुई मौत के बाद परिजनों ने उसका पोस्टमार्टम (post mortem) अलीगढ़ के डॉक्टर से कराने से साफ तौर पर इंकार कर दिया। परिवार वालों का कहना है कि रेनू शर्मा के शव का पोस्टमार्टम गैर जनपद के डॉक्टरों के द्वारा ही  कराया जाएगा। आपको बता दें कि पोस्टमार्टम के लिए 4 डक्टरों के पैनल को गठित किया 
गया था। 

गैर जनपद से बुलाया जाए डॉक्टर 
जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ में जहरीली शराब कांड के मास्टरमाइंड शराब माफिया ऋषि शर्मा और 109 लोगों की मौत की जिम्मेदार और जहरीली शराब कांड में शामिल माफिया की पत्नी पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा की मौत के बाद परिजनों ने उसका पोस्टमार्टम अलीगढ़ के डॉक्टर से कराने से साफ तौर पर इंकार कर दिया है। परिजनों की मांग है कि गैर जनपद से डॉक्टर बुलाया जाए। गैर जनपद के डॉक्टर आने के बाद ही पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा के शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। 

4 डक्टरों के पैनल का हुआ था गठन 
अलीगढ़ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आनंद उपाध्याय के द्वारा पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा का पोस्टमार्टम कराने के लिए 4 डक्टरों के पैनल का गठन कर दिया गया था। जिसमें डॉक्टर अनन्या और मेडिकल कॉलेज से फॉरेंसिक एक्सपर्ट डॉक्टर जितेंद्र को टीम में शामिल किया गया था। लेकिन मृतिका के परिजनों सहित रिश्तेदारों ने जेल प्रशासन पर जेल के अंदर हत्या करने का आरोप लगाया गया। जिसके चलते परिजनों ने अलीगढ़ के चिकित्सकों से पोस्टमार्टम कराने से इंकार कर दिया है। परिजनों द्वारा अलीगढ़ के डॉक्टर से डेड बॉडी का पोस्टमार्टम कराने से इनकार के बाद मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आनंद उपाध्याय की चिंता की लकीरें बढ़ गई। जिस पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी (chief Medical Officer) ने मुख्य विकास अधिकारी के निर्देश पर गैर जनपद से चिकित्सकों की टीम को बुलाकर पूर्व ब्लाक प्रमुख रेनू शर्मा का पोस्टमार्टम कराने के लिए जिले के उच्च अधिकारियों को प्रार्थना पत्र लिखा गया है।

104 लोगों की मौत का था आरोप, रेनू शर्मा की अलीगढ़ जेल में मौत, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios