अमरोहा (उत्तर प्रदेश). यूपी के अमरोहा में दबंगों के डर से एक परिवार को अपना घर बेचने का फैसला किया है। इसके लिए परिवार ने घर के बाहर पोस्टर भी लगा दिया है। जिसपर लिखा है, पुलिस उत्पीड़न की वजह से हम यह मकान बेच रहे। यहां हमारी बहन बेटियां सुरक्षित नहीं... परिवार का आरोप है कि पुलिस भी दबंगों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर रही। मजबूरन उन्हें यह फैसला लेना पड़ा। 

क्या है पूरा मामला
मामला आदमपुर थाना क्षेत्र के गंगेश्वरी गांव का है। यहां रहने वाले रवि कश्यप की फैमिली  करीब 25 साल पहले पास के गांव पतेई खादर में जाकर बस गई। रवि और पत्नी सोमा का आरोप है कि पुराने घर (गंगेश्वरी गांव में) के पड़ोस में रहने वाले उसके मकान पर जबरन कब्जा करना चाहते हैं। विरोध करने पर मारपीट की धमकी देते हैं। तीन दिन पहले दबंग उनके घर में घुस आए थे। बहन बेटियों से बदतमीजी की। साथ ही जान से मारने की धमकी भी दी। 

पीड़ितों ने पुलिस पर लगाया आरोप
पीड़ितों का आरोप है, यूपी 100 पर पुलिस को इसकी सूचना दी गई। पुलिस मौके पर आई भी, लेकिन आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इसको लेकर कई बार पुलिस से शिकायत की गई, लेकिन कोई सहायता नहीं मिली। इसलिए मकान बेचना पड़ रहा है।

पुलिस का क्या है कहना
पुलिस चौकी इंचार्ज मोहित चौधरी ने बताया, पीड़ितों के परिवार में चचेरे तहेरे भाइयों में मकान पर कब्जे को लेकर विवाद चल रहा है। कई बार दोनों पक्षों को समझाया गया। अब दीवार पर किसी ने मकान बेचने संबंधित बात लिखी है, इसकी जांच की जाएगी। मामले में जो भी दोषी पाया जाएगा, उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।