हिंदू लड़की को किडनैप कर कराया धर्मांतरण, जबरन निकाह का विरोध करने पर पीड़िता की मां के साथ की ऐसी हरकत

| Dec 09 2022, 05:46 PM IST

हिंदू लड़की को किडनैप कर कराया धर्मांतरण, जबरन निकाह का विरोध करने पर पीड़िता की मां के साथ की ऐसी हरकत

सार

यूपी के फतेहपुर में 8 महीने पहले अगवा हुई हिंदू लड़की का धर्मपरिवर्तन के बाद जबरन निकाह कराया जा रहा था। जब पीड़िता की मां ने निकाह का विरोध किया तो आरोपियों ने मारपीट करते हुए उनके कपड़े फाड़ दिए।

फतेहपुर: उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। बता दें कि 8 महीने पहले अगवा हुई हिंदू लड़की का धर्म परिवर्तन कराने के बाद उसका जबरन निकाह कराया जा रहा था। वहीं मामले की सूचना मिलने पर लड़की की मां ने निकाह का विरोध किया तो उसके साथ मारपीट की गई। इतना ही नहीं आरोपियों ने पीड़िता की मां के कपड़े भी फाड़ दिए। इसके बाद मामले की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी मौलवी समेत दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस ने 10 लोगों के खिलाफ दर्ज किया केस
पीड़िता की मां की तहरीर पर पुलिस ने आरोपी मौलवी कल्लू समेत 10 लोगों के खिलाफ  धर्मांतरण, मारपीट, छेड़खानी, अपहरण, जान से मारने की धमकी और बलवा की धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। बता दें कि यह मामला असोथर थाना क्षेत्र के सातोपीत गांव है। कोतवाली थाना क्षेत्र के हरिहरगंज निवासी मानसी गुप्ता मई 2022 में संदिग्ध तरीके से लापता हो गई थी। जिसके बाद मानसी की मां अंजुला ने थाने में बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। बताया गया कि बीते 8 दिसंबर को पीड़िता की मां को पता चल कि सोथर थाना क्षेत्र के सातो गांव में उनकी बेटी का धर्मांतरण करा के जबरन निकाह कराया जा रहा है।

Subscribe to get breaking news alerts

पुलिस ने आरोपियों को किया गिरफ्तार
जब पीड़िता की मां को पता चला कि मानसी का अंसार अहमद से निकाह कराया जा रहा है। सूचना मिलने पर जब पीड़िता की मां मौके पर पहुंची तो देखा कि मौलवी निकाह पढ़ा रहा था। विरोध करने पर आरोपियों ने अंजुला के साथ मारपीट करते हुए कपड़े फाड़ दिए। पीड़िता की मां की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी अंसार अहमद, उसकी मां सहरुन निशा, भाई नौशाद अली, दिलशाद अली, भाभी सोनी बनो, यासमीन, बहन तहरुन निशा और मौलवी कल्लू के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। वहीं इस मामले के 8 अन्य आरोपी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर हैं। पुलिस ने पकड़े गए आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा 147, 323, 504, 506, 366, 354 व उत्तर प्रदेश विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध अधिनियम 2021 की धारा 3, 5 (1) के तहत केस दर्ज किया है।

VHP ने दी चेतावनी
सीओ थरियांव दिनेश चंद्र मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले पर आगे की कार्रवाई की जा रही है। बता दें कि धर्मांतरण का पहला मामला नहीं है। पिछले 10 से 15 महीने में सबसे ज्यादा धर्मांतरण के केस सामने आ चुके हैं। वहीं हिंदूवादी संगठनों ने धर्मांतरण के इस मामले पर कड़ा ऐतराज जताया है। वीएचपी के प्रांतीय महामंत्री वीरेंद्र पांडेय ने बताया हिंदू लड़की का जबरन धर्मांतरण कर निकाह की सूचना मिलने पर हमारे कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि ये लोग सुधर जाएं नहीं तो वीएचपी इन्हें मुंहतोड़ जवाब देगी।

फतेहपुर: अवैध संबंधों में बाधा बन रहे पति को मां-बेटे ने मिलकर उतारा मौत के घाट, बेरहमी से की गला रेत कर हत्या