Asianet News HindiAsianet News Hindi

फिरोजाबाद में 4 बीघे जमीन के लिए बड़े भाई की बेरहमी से की हत्या, इस हालत में शव देख ग्रामीण भी रह गए दंग

यूपी के जिले फिरोजाबाद में चार बीघे जमीन के लिए छोटे भाई ने बड़े भाई की हत्या कर फरार हो गया। मृतक युवक की मौत की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने घटनास्थल का मुआयना किया और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। 

Firozabad elder brother brutally murdered 4 bighas land villagers stunned see dead body condition
Author
First Published Sep 24, 2022, 4:01 PM IST

फिरोजाबाद: उत्तर प्रदेश के जिले फिरोजाबाद में देर रात संपत्ति के लिए युवक ने अपने बड़े भाई की हत्या कर फरार हो गया। इसकी जानकारी तब हुए जब गांव की एक महिला युवक के कमरे में गई तो देखा कि वह लहुलूहान अवस्था में कमरे में पड़ा था। इस घटना की सूचना ग्रामीणों ने पुलिस को दी। मौके पर सीओ अपनी टीम के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। वहीं गांव वालों का आरोप है कि दो दिन पहले ही उसका छोटा भाई घर आया था और जब उसे खोजा गया तो वह मौके से फरार था।

जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के जसराना के मिलावली गांव का है। संपत्ति के लिए छोटे भाई सूरतराम (21) ने बड़े भाई लाखन सिंह (22) की हत्या की और फरार हो गया। गांव की महिला का कहना है कि लाखन सिंह कई सालों से इसी गांव में रहता है और उसके यहां मजदूरी करता है। शनिवार की सुबह वह जब घर नहीं आया तो उसे बुलाने के लिए घर आई। इस दौरान घर का दरवाजा खुला था और अंदर कमरे में गई तो देखा कि वह औंधे मुंह गिरा पड़ा है और शरीर से खून बह रहा था।

संपत्ति को लेकर होता था दोनों में विवाद
इस बारे में गांव के अन्य लोगों को बताया तो घर के सामने भीड़ इकट्ठा हो गई। लाखन के छोटे भाई सूरतराम की तलाश करने के लिए ग्रामीण लग गए लेकिन काफी देर बाद भी वह नहीं मिला। इसी वजह से ग्रामीणों ने सूरतराम पर लाखन सिंह की हत्या का आरोप लगाया है। गांव वालों के अनुसार दोनों भाइयों के माता-पिता की मौत दो साल पहले ही हो चुकी है। इसके बाद से दोनों अलग-अलग ही रहते हैं। सूरतराम बुलंदशहर के पास किसी गांव में पत्नी के साथ रहता है। वह दो दिन पहले ही भाई लाखन के पास आया था। दोनों के बीच संपत्ति को लेकर आपस में विवाद होता रहता था। माता-पिता की मौत के बाद से दोनों में बंटवारा हुआ। जिसके बाद 10 बीघा की जमीन में तीन बीघा सूरतराम, तीन बीघा उसकी मां व चार बीघा लाखन सिंह को मिली थी। 

पुलिस भाई के नंबर को कर रही है ट्रेस
सूरतराम ने अपनी और मां का हिस्सा बेच दिया था। इसके बाद उसकी नजर लाखन की जमीन पर थी। इतना ही नहीं एक साल पहले भी सूरतराम ने फर्जी तरीके से आधार कार्ड में अपना फोटो लगाकर लाखन सिंह की जमीन का बैनामा करने का प्रयास किया था लेकिन वह सफल नहीं हो पाया था। इस बात को लेकर दोनों में झगड़ा हुआ था। दोनों में हमेशा विवाद होता रहता था। इस पूरे प्रकरण में सीओ अनिवेश कुमार सिंह ने कहा कि युवक की मौत की सूचना मिली थी। जिसके बाद घटनास्थल पर पहुंचकर मौका का मुआयना किया गया है। लाखन के सिर पर गंभीर चोट के निशान हैं क्योंकि ईंट से हमला किया गया है। उन्होंने आगे कहा कि भाई मौके से फरार है इसलिए उसी पर हत्या का आरोप लग रहा है। युवक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और आरोपी भाई की लोकेशन ट्रेस किया जा रहा है। पुलिस जल्द ही आरोपी भाई को गिरफ्तार कर लेगी।

इटावा: पेट्रोल पंप के मालिक ने बंदूक से गोली मारकर की आत्महत्या, मृतक के पिता मुलायम सिंह यादव के है करीबी

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios