Asianet News HindiAsianet News Hindi

मेरे जिस्म से खेला, दिल भरा तो छोड़ दिया...उसे छोड़ना मत' हेल्पलाइन पर फोन कर लड़की ने किया सुसाइड

यूपी के हरदोई जिले में प्रेमी से धोखा मिलने के बाद युवती ने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। बताया जा रहा है कि गांव के एक युवक से उसका प्रेम-प्रसंग चल रह था। प्रेमी द्वारा नजरअंदाज किए जाने से आहत होकर युवती ने सुसाइड कर लिया।

girl committed suicide by calling helpline played with my body left it when my heart was full
Author
First Published Sep 27, 2022, 11:17 AM IST

हरदोई: उत्तर प्रदेश के हरदोई जिले में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। प्यार में धोखा मिलने पर एक 20 वर्षीय युवती ने आहत होकर मौत को गले लगा लिया। आत्महत्या करने से पहले युवती ने महिला हेल्पाइन पर फोन कर कहा कि वह अपनी जान देने जा रही है। लेकिन जबतक पुलिस मौके पर पहुंचती तब तक युवती फांसी लगा चुकी थी। युवती ने एक सुसाइड नोट भी छोड़ा है। इसमें मृतका ने आत्महत्या के लिए अपने प्रेमी को जिम्मेदार बताया है। उसने प्रेमी पर शारीरिक शोषण करने पर प्यार का झूठा नाटक करने का आरोप लगाया है। 

प्रेमी को ठहराया मौत का जिम्मेदार
पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवती के शव को नीचे उतारकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मृतका ने सुसाइड नोट में लिखा है कि मेरी मौत का जिम्मेदार प्रत्युष है, उसने पहले हमसे प्यार का नाटक किया और मेरे जिस्म के साथ खेला। जब उसका मन भर गया तो उसने मुझे छोड़ दिया। लेकिन आप लोग उसे मत छोड़ना। प्लीज, हम उसके बिना जी नहीं सकते, लेकिन मर तो सकते हैं। सुसाइड नोट के नीचे युवती ने आदर्श मौर्या लिखा था। यह घटना पिहानी थाना क्षेत्र के रैंगाई गांव की है। 

girl committed suicide by calling helpline played with my body left it when my heart was full

गांव के युवक से चल रहा था प्रेम-प्रसंग
मृतका के पिता के अनुसार, गांव के प्रत्यूष नामक लड़के से उनकी बेटी वंदना का प्रेम-प्रसंग चल रहा था। वह प्रत्यूष से शादी करना चाहती थी। वहीं प्रेमी से धोखा मिलने के बाद उसने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। मृतका के पिता ने बताया कि रविवार की रात वह खेत की रखवाली करने करने के लिए गए थे। इस दौरान घर में केवल पत्नी, बेटी और उसकी बहन थी। देर रात बेटी ने कमरे में दुपट्टे से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। अगले दिन सुबह जब वह काफी देर तक कमरे से बाहर नहीं निकली तो उसकी मां उसे जगाने कमरे में गई। जहां पर उन्होंने बेटी वंदना को फांसी पर लटका देखा। पुलिस को बरामद हुए सुसाइड नोट में मृतका ने अपनी मौत का जिम्मेदार प्रत्यूष उर्फ आदर्श को बताया है। 

प्रेमी से धोखा मिलने पर की आत्महत्या
ग्रामीणों ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि वंदना ने बिलग्राम तहसील क्षेत्र के एक डिग्री कॉलेज से बीए पास किया था। इस दौरान गांव निवासी प्रत्यूष उर्फ आदर्श मौर्य हरदोई में रहकर अपनी पढ़ाई कर रहा था। एक ही गांव का होने के कारण दोनों के बीच में नजदीकियां बढ़ गई थीं। लेकिन कुछ दिन पहले आदर्श ने वंदना से पीछा छुड़ाना शुरूकर दिया था। एएसपी पश्चिमी दुर्गेश कुमार सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि मृतका की मां ने प्रत्यूष उर्फ आदर्श के अलावा गांव के आशीष कुमार और राजकुमारी को भी बेटी की आत्महत्या का जिम्मेदार ठहराया है। एएसपी ने कहा कि तहरीर के आधार पर केस दर्जकर मामले की जांच की जा रही है। 

शातिराना तरीके से चोरी की घटनाओं को दे रहे थे अंजाम, पुलिस ने इस तरह से किया खुलासा

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios