Asianet News HindiAsianet News Hindi

गोरखपुर में घर से 200 मीटर दूर नाबालिग का 4 युवकों ने किया किडनैप, गांव से बाहर ले जाकर की ऐसी हरकतें

यूपी के जिले गोरखपुर में घर से 200 मीटर दूर नाबालिग का चार युवकों ने किडनैप कर लिया। उसके बाद गांव से बाहर ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया। इतना ही नहीं उसकी हालत बिगड़ता देख चारों आरोपी वहां से फरार हो गए। 

Gorakhpur four youths kidnapped minor 200 meters away from house did such acts taking him out of village
Author
First Published Sep 24, 2022, 11:47 AM IST

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के जिले गोरखपुर में नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। घर से शौच के लिए निकली किशोरी को गांव के ही बाइक सवार चार युवकों ने उसको अगवा कर लिया। उसके बाद गांव के बाहर बगीचे में ले गए। युवकों ने हैवानियत की सारी हदे पार कर दी। बगीचे में पहले नाबालिग को मारा और उसके बाद सामूहिक दुष्कर्म किया। किशोरी बेहोशी की हालत में घरवालों को मिली है। इसके बाद आनन-फानन में अस्पताल ले गए जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पीड़ित परिवार ने इस मामले की सूचना पुलिस को भी दे दी है।

बीच रास्ते में युवकों ने नाबालिग को किया अगवा
जानकारी के अनुसार यह मामला शहर के खोराबार इलाके का है। यहां के एक गांव की रहने वाली नौ वीं की 17 वर्षीय छात्र रात में शौच के लिए जा रही थी। घर से 200 मीटर की दूरी के रास्ते से गांव के रहने वाले चार युवकों ने उसे जबरन पकड़कर बाइक पर बैठा लिया। उसने चिल्लाने की कोशिश की तो आरोपियों ने उसका मुंह दबा दिया। उसको गांव के बाहर बगीचे में ले गए। यहां पर पहले उसके साथ मारपीट की फिर चारों ने बारी-बारी से उसके साथ दरिंदगी की। इतना ही नहीं नाबालिग की हालत बिगड़ने पर बगीचे में छोड़कर आरोपी फरार हो गए।

होश में आने के बाद नाबालिग ने बताई पूरी बात
दूसरी ओर नाबालिग के परिवार के लोग पूरी रात उसकी तलाश करते रहे। सुबह होने पर बगीचे की तरफ गांव का एक युवक पहुंचा तो उसने देखा कि नाबालिग बेहोशी की हालत में पड़ी है। उसने परिवार और गांव के लोग के लोगों को सूचना दी। जिसके बाद घरवाले और गांव के लोग जुट गए और पानी के छीटें मारकर बेटी को होश में लाए। नाबालिग ने होश में आने के बाद घरवालों को अपने साथ हुई आपबीती के बारे में बताया। बेटी की हालत देखकर घरवालों ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोराबार ले गए, जहां डॉक्टरों ने उसकी हालत को देखते हुए जिला अस्पताल में रेफर कर दिया। 

दोनों पक्षों के बीच विवाद की वजह आ रही सामने
नाबालिग जिला अस्पताल में भर्ती तो है लेकिन उसकी हालत नाजुक बनी हुई है। इस पूरे प्रकरण में एसपी सिटी कृष्ण कुमार विश्वोई ने बताया कि दोनों पक्षों के बयान मैच कराए जा रहे हैं और दोनों में काफी फर्क देखने को मिल रहा है। उन्होंने कहा कि शुरुआती जांच में दोनों पक्षों के बीच नाली का विवाद भी सामने आया है। इस पूरे मामले की जांच कराई जा रही है। एसपी आगे कहते है कि नाबालिग का इलाज जिला अस्पताल में चल रहा है। उसका शनिवार को महिला अस्पताल में मेडिकल कराया जाएगा और दुष्कर्म की पुष्टि होते ही मामला दर्ज कार्रवाई की जाएगी।

सीतापुर: क्लास में राउंड लगा रहे स्कूल प्रिंसिपल पर की गई ताबड़तोड़ फायरिंग, इस बात से नाराज था छात्र

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios